BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, अक्तूबर 06, 2017

हनीप्रीत ने फरार होने के बाद बठिंडा में की सबसे ज्यादा वॉट्सएप काॅलिंग , हनीप्रीत ने माना बठिंडा में रही थी


पहले मुकरी, सुखदीप की हां पर हनीप्रीत ने माना बठिंडा में रही थी
पूछताछ के दौरान छूटा हनीप्रीत का पसीना, कई बार पीने के लिए मांगा पानी
226 किलोमीटर का सफर तय करने में लगे साढ़े पांच घंटे  

बठिंडा में सुखदीप के घर ढाई घंटे तक हनीप्रीत से पूछताछ
#dabwalinews.com
पंचकूला हिंसा में देशद्रोह की आरोपी हनीप्रीत और उसकी साथी सुखदीप कौर को लेकर हरियाणा पुलिस की एसआईटी गुरुवार को बठिंडा पहुंची। यहां नई बस्ती स्थित सुखदीप के घर पर ढाई घंटे तक बंद कमरे में पूछताछ हुई। हनीप्रीत बार-बार पसीना पाेंछती रही और कई बार पीने को पानी मांगा। पहले तो मना करती रही कि वह यहां नहीं आई लेकिन सुखदीप के हां कहने पर उसने स्वीकारा कि यह इसी घर में ठहरी थी। पंचकूला कोर्ट ने हनीप्रीत को 6 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा है।
हनीप्रीत और सुखदीप को सुबह 7 बजे पंचकूला सेक्टर-23 स्थित चंडीमंदिर थाने से सेक्टर-20 थाने लाया गया। यहां से दोनों को पंचकूला हिंसा की जांच को गठित एसआईटी दोपहर करीब 12.30 बजे बठिंडा लेकर पहुंची। तहसीलदार सुखबीर सिंह बराड़ के सामने सुखदीप के घर का ताला तोड़ा गया। रसोई से लेकर कमरों तक की जांच हुई। चाय के बर्तन खाना बनाने का सामान भी यहां से मिला। घर में लोहे प्लास्टिक की 10 कुर्सी भी मिलीं। पहले पुलिस एविडेंस में सामने आया था कि 6 साल से इस घर में कोई नहीं रहा लेकिन अब मिले साबूतों से पता चलता है कि यहां हाल ही कोई रहा है। जहां दोपहर बाद तीन बजे तक उससे पूछताछ चली। इसके बाद हरियाणा पुलिस बलुआना जाने की बजाय सीधा पंचकूला के लिए रवाना हो गई। पुलिस का कहना है कि यहां कई फिलहाल दंगा भड़काने के मामले में हनीप्रीत इनकार कर रही है।
सुरक्षा कारणों से पंचकूला से बठिंडा तक का 226 किलोमीटर का सफर तय करने में करीब साढ़े पांच घंटे लग गए। भवानीगढ़ थाने में करीब एक घंटा और रामपुरा थाने में करीब 25 मिनट तक हनीप्रीत को सुरक्षा कारणोें से रखा गया। सुरक्षा कारणों से हनीप्रीत को तीन बार अलग-अलग वाहनों में बैठाया गया। पंचकूला से हरियाणा पुलिस की बस में बैठाया गया। बीच में उसे टवेरा और बाद इनोवा से बठिंडा लाया गया।
हरियाणा पुलिस/पंजाब पुलिस
जिस घर की तलाशी वहां नहीं मिले सबूत
एसपी बठिंडा गुरमीत सिंह ने कहा कि हरियाणा ने अपनी जांच की है। इस दौरान मैं भी उनके साथ था, लेकिन उन्हें घर में ऐसा कुछ नहीं मिला जिससे दावा किया जा सके कि इस घर में कोई रहता होगा।
बठिंडा में हनीप्रीत के रहने के सुराग
पंचकूलाके एसीपी मुकेश कुमार ने कहा कि हनीप्रीत बठिंडा में रही इसके एविडेंस उन्हें मिले हैं। लेकिन हनीप्रीत पूरे 38 दिन बठिंडा में ही रही वह हनीप्रीत के बयानों से सहमत नहीं हूं।

हरियाणा सीएम/पंजाब सीएम
खट्टर बना रहे मनगढ़ंत कहानियां : कैप्टन
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि खट्‌टर अपनी विफलता का ठीकरा हम पर फोड़ें। खट्टर पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस के विरुद्ध झूठे आरोप लगाने में अपनी एनर्जी और समय बर्बाद करें।

पंजाब ने सूचना छिपाई, दाल में काला है : खट्टर
हरियाणाके सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हनीप्रीत मामले में पंजाब पुलिस को जानकारी शेयर करनी चाहिए थी। जरूर दाल में कुछ काला है। हनीप्रीत से पूछताछ में सब सामने जाएगा। 

कौन है सुखदीप
हनीप्रीत सुनारिया जेल के बाहर से फरार होने के बाद गुरुसर मोडिया पहुंची। उसने 2 सितंबर को बठिंडा की सुखदीप कौर से संपर्क किया। कई दिनों तक वह सुखदीप के पास रही। उसका परिवार डेरे का अनुयायी है। उसका पति इकबाल सिंह भी डेरे की गाड़ी चलाता रहा है। 
हनीप्रीत ने फरार होने के बाद बठिंडा में की सबसे ज्यादा वॉट्सएप काॅलिंग
क्राइम बांच को जानकारी मिली है कि फरार होने के बाद हनीप्रीत ने 17 मोबाइल फोन्स का इस्तेमाल किया। यह भी सामने आया कि वॉट्सएप काॅलिंग उसने सबसे ज्यादा बठिंडा के लोगों से की। एसीपी मुकेश का कहना है कि पता लगाया जा रहा है कि हनीप्रीत कहां-कहां रही।






























कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज