Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: इन गलियों को क्यों किया दरकिनार ? मुख्यमंत्री की घोषणाओं को किया नजरादांज
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com नगर परिषद की 14 गलियों के नव निर्माण एवं कॉलोनी रोड के आगे के हिस्से के निर्माण के लिए पिछले दिनों टैंडर प्रक्रिया स...
#dabwalinews.com

नगर परिषद की 14 गलियों के नव निर्माण एवं कॉलोनी रोड के आगे के हिस्से के निर्माण के लिए पिछले दिनों टैंडर प्रक्रिया संपन्न हो जाने से यूं लगने लगा है कि शहर में कुछ विकास कार्य आगामी कुछ ही समय में आरंभ होने वाले हैं। जिससे आमजन कुछ राहत सी महसूस तो हो रही है लेकिन परिषद अधिकारियों द्वारा इस टैंडर प्रक्रिया में कुछ जल्दबाजी की गई है या फिर जानबूझ कर ऐसा किया गया है। इन 14 गलियों के टैंडर में उन 5 गलियों को शामिल नहीं किया गया जो मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के दौरे के दौरान नवनिर्माण के लिए मुख्य रूप से चयनित की गई थी। जिसके कारण अब विरोध के स्वर उभरने लगे हैं। नगर पार्षद रविन्द्र बबलू, अंजु बाला, पार्षद प्रतिनिधि राकेश बब्बर, युद्धवीर रंगीला का कहना है कि मुख्यमंत्री दौरे के दौरान वार्ड चार की 2 गलियां, वार्ड 3 की एक गली सहित दो अन्य गलियाां जो पूरी तरह से जर्जर हालत में हैं उन्हें प्रमुखता से बनाने का आदेश जारी किया गया था।
पार्षदों का कहना है कि इन पंाच गलियों की हालत बेहद खराब है और इसके लिए तीन बार टैंडर सूचना के लिए विज्ञापन आदि जारी किए गए लेकिन इनका टैंडर नहीं हो पाया। उक्त पार्षदों का आरोप है कि नगर परिषद में भेदभावपूर्ण रवैया अपनाते हुए जिन 14 गलियों की टैंडर प्रक्रिया जारी की गई है उनमें से कुछ गलियों की हालत तो बेहद दुरूस्त इसके बावजूद भी उनका टैंडर कर दिया जबकि जिन पांच गलियों को प्रमुखता से बनाए जाने ेके लिए टैंडर जारी किए जाने थे वो नहीं किए गए। उन्होंने कहा कि 14 गलियों के साथ-साथ इन पांच गलियों के टैंडर भी जारी किए जाने चाहिए थे लेकिन नहीं किए गए।

पार्षद बोले विज्ञापनों पर क्यों किया खर्च
 नगर पार्षद रविन्द्र बबलू, अंजु बाला, पार्षद प्रतिनिधि राकेश बब्बर, युद्धवीर रंगीला ने नगर परिषद के अधिकारियों पर गंभीर  आरोप लगाते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के डबवाली आगमन पर जिल पांच गलियों के नवनिर्माण की मांग मुख्य रूप से रखी गई थी उस दौरान मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को आदेश दिया था कि इन पांच गलियों के निर्माण काम का जल्द और प्रमुखता से करवाया जाए  और उसके बाद इन गलियों के टैंडर की सूचना समाचार पत्रों में तीन बार विज्ञापन दिए गए लेकिन किसी ठेकेदार द्वारा आवेदन न किए जाने के कारण टैंडर प्रक्रिया सिरे नहीं चढ़ पाई। अब जब 14 गलियों सहित कॉलोनी रोड के टैंडर आवेदन स्वीकार हुए तो उन पांच गलियों को क्यों दरकिनार किया गया। जिसको लेकर उक्त पार्षदों में गहरा रोष है।

उन गलियों का भी होग निर्माण:विनोद बांसल
 इस विषय पर नगर पार्षद विनोद बांसल से बात की तो उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि किसी तरह की कोई भेदभावपूर्ण नीति नहीं अपनाई जा रही है और टैंडर प्रक्रिया को पारदर्शिता के साथ जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि 13 गलियों और कॉलोनी रोड की टैंडर प्रक्रिया हो चुकी हैं और इस पर कार्य भी जल्द आरंभ हो जाएगा। बांसल ने कहा कि जहां तक मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के दौरे के दौरान जिन पांच गलियों को प्रमुखत से रखा गया था उन गलियों केे टैंडर भी ई-टैंडर के जरिए डाला गया है वे भी मंजूर हो चुकी है और आगामी 13 दिसम्बर को इसका टैंडर जारी किया जाएगा और 14 दिसम्बर को यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। उन्होंने कहा कि अन्य गलियों के साथ-साथ उन पांच गलियों का भी नवनिर्माण किया जाएगा। बांसल ने कहा कि यदि किसी पार्षद अथवा आमजन को शिकायत है तो खुलकर अपनी बात नगर परिषद के समक्ष रख सकता है। उसका जवाब नगर परिषद अध्यक्ष व अधिकारी देने के लिए संकल्पबद्ध हैं।

प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें