Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: शहर पर छा जाता है धूल का गुबार
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#dabwalinews.com शहर की जनता स्थानीय नेताओं के दावे और प्रतिदावों को पूरी सहनशीलता के साथ सहन कर रही है और विकास के कहीं मुंह छिपाए बैठा...
#dabwalinews.com
शहर की जनता स्थानीय नेताओं के दावे और प्रतिदावों को पूरी सहनशीलता के साथ सहन कर रही है और विकास के कहीं मुंह छिपाए बैठा हैं। एक ओर जहां शहर की सडक़ों पर पड़े गड्डों और गड्डों से जूझते वाहन अपनी कहानी स्वयं ही बयान कर रहे हंै वहीं दूसरी ओर रेलवे विभाग द्वारा भी शहर के लोगों को असहनीय पीड़ा सहने को मजबूर कर रहा है। शहर को दो भागों कें बांटने वाले मुख्य रेलवे फाटक से होकर गुजरने वाले वाहन जैसे ही रेलवे की भूमि की ओर मुड़ते हैं तो दूर तक धूल भरे गुबार अपने पीछे छोड़ जाते हैं। यह धुल का गुबार पूरे शहर के लोगों को तक पहुंचता है।
एक तरफ जहां गंदगी के ढेर लगे हंै तो वहीं माल गाड़ी में माल का लदान करवाने के लिए ट्रकों की लगने वाली स्पैशल प्रक्रिया के दौरान भारी संख्या मे ट्रक रेलवे सीमा में प्रवेश करते हैं। रेलवे विभाग की सीमा मे प्रवेश करते ही ट्रक रूपी भारी वाहन अपने पीछे धुल छोड़ जाते हैं जिसे सहन करना शहर के लोगों के लिए दुश्वार होता जा रहा है। यहां से उड़ती धूल अपना असर पूरे शहर पर छोड़ रही है, जिसके चलते लोग दमें व अन्य चमड़ी रोग से ग्रस्त होते जा रहे हैं।
एक तरफ  रेलवे विभाग जहां रेलवे स्टेशन परिसर में वर्ष 2014 में इंटरलोकिंग करवाया था उसी को फिर से उखड़वाकर पुन: पक्का करने का कार्य किया जा रहा है तो वहीं माल ढुलाई के लिए बने रास्ते के बारे वर्षों तक विचार नहीं किया जा रहा। इस मार्ग का निर्माण हुए बरसों बीत चुके हैं और अब हालात ऐसे हैं कि सडक़ नाम की चीज यहां दिखाई नहीं पड़ती। यदा-कदा रेलवे विभाग इस मार्ग पर मिट्टी डलवाकर अपने कर्तव्य की पूर्ति कर लेता है जबकि यही मिट्टी शहर के लोगों के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है। रेलवे विभाग इस मार्ग को दुरूस्त करवाने का कार्य क्यों  नहीं कर पा रहा इसका जवाब किसी के पास नहीं है।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें