BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, जनवरी 02, 2018

बूटा सिंह पटवारी हत्या मामला: जमीनी विवाद को लेकर की थी हत्या, दो महिला गिरफ्तार अन्य की तलाश जारी


चाय में दवा देकर किया बेहोश फि र दबा दिया गला
 #dabwalinews.com
दिसम्बर माह के अंतिम सप्ताह डबवाली डिस्ट्रीब्यूटर नहर से मिले पटवारी बूटा सिंह की हत्या मामले की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। पटवारी की जमीन विवाद को लेकर हत्या कर शव को नहर में फैंक दिया गया था। पुलिस ने हत्या मे संलिप्त दो महिलाओं को गिरफ्तार किया है तो वहीं तीन अन्य लोग अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं।  गिरफ्तार की गई महिला सुखपाल कौर निवासी तिगड़ी और परमजीत कौर निवासी तरखांनवाली(पंजाब) ने पुलिस को बताया कि वीरपाल पत्नी गुरदर्शन सिंह तिगड़ी से डेढ़ किला खरीदी थी। इसी जमीन को लेकर विवाद चल रहा था जो कोर्ट में भी विचाराधीन है। इस बात को लेकर पटवारी बूटा सिंह से रंजिश हो गई और रंजिश के चलते उन्होंने अन्य तीन लोगों के साथ मिलकर बूटा सिंह को जान से मारने की योजना बनाई और इस योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए सुखपाल कौर, परमजीकौर ने सतपाल उफ हैप्पी, ज्ञानी और अमृतपाल के साथ मिलकर बूटा सिंह की चाय में नशीली दवा मिलाने के बाद उसका गला घोटकर मार डाला तथा शव को डबवाली डिस्ट्रीब्यूट नहर में फैंक दिया। पुलिस ने उक्त महिलाओं के बयान पर अन्य तीन लोगो के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर तलाश आरंंभ कर दी है। गिरफ्तार की गई महिलाओं को न्यायालय में पेश करर रिमांड पर लेने का प्रयास किया जाएगा ताकि अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया जा सके।
उल्लेखनीय है कि बीती 24 दिसम्बर को मूलरूप से गांव तिगड़ी निवासी बूटा सिंह पटवारी का शव डबवाली क्षेत्र के गांव मांगेआना के बीच स्थित डबवाली डिस्टिीब्यूटर नहर से मिला था। पुलिस ने मृतक बूटा सिंह के भाई प्रदीप सिंह के बयान पर हत्या की आशंका का मामला दर्ज किया था। मृतक बूटा सिंह के भाई प्रदीप सिंह ने पुलिस को बताया था उसका भाई बूटा सिंह नहरी पटवारी के पद पर गांव फत्ता (पंजाब) में कार्यरत था और 23 दिसम्बर को वह अपनी पत्नी व बच्चों को लेकर बंठिंडा के बस अड्डे पर गया था और बच्चों को रामा मंडी जाने वाली बस में बैठाकर चला गया तो उस दौरान उसके मामा के लडक़े का फोन आया और फिर बात करने की बात कहकर काट दिया। उसके बाद 24 दिसम्बर को जब बूटा सिंह के नम्बर पर कॉल किया तो फोन नहीं लगा। इसके बाद बूटा सिंह की तलाशआरंभ की गई तो इसकी शिकायत रामा मंडी थाना में भी दर्ज करवाई गई। 24 दिसम्बर को रात्रि 8 बजे बूटा सिंह का शव नहर से मिलने की सूचना मिली। सूचना के बाद डबवाली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया और बूटा ङ्क्षसह के शव को परिजनों को सौप दिया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज