Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: हरियाणा पहुंची पंजाब पुलिस को बंधक बनाकर की मारपीट
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
पंजाब पुलिस के कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि परिवार के लोगों ने आरोपी सुनील को बचाने के लिए जानबूझकर बंधक बनाकर उन्हें पीटा है. हमले...

पंजाब पुलिस के कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि परिवार के लोगों ने आरोपी सुनील को बचाने के लिए जानबूझकर बंधक बनाकर उन्हें पीटा है.


हमले में घायल पंजाब पुलिस का कर्मचारी



#dabwalinews.com सिरसा के डबवाली हलके में गांव रिसालियाखेड़ा की ढाणी में छापेमारी के लिए आई पंजाब की मोहाली पुलिस टीम के साथ मारपीट करने के आरोप लगे हैं. घायल पुलिसकर्मियों की शिकायत पर गोरीवाला पुलिस ने केस दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी है. पीड़ित पुलिस कर्मचारियों ने बताया कि वे पंजाब में दर्ज मामले के आधार पर जमानत खारिज हो चुके अपराधी सुनील को पकड़ने उसकी ढाणी में आए थे और इसकी आमद गोरीवाला पुलिस में दर्ज कराई थी.

पंजाब पुलिस के कर्मचारियों ने आरोप लगाया है कि परिवार के लोगों ने आरोपी सुनील को बचाने के लिए जानबूझकर बंधक बनाकर उन्हें पीटा है. पीड़ित घायल पुलिसकर्मी परमिंद्र सिंह ने बताया कि वह सिपाही इकबाल सिंह और जुगराज के साथ उक्त लोगों के मकान पर छापेमारी करने पहुंचे ताकि आरोपी को गिरफ्तार किया जा सके. लेकिन आरोपी ने शोर मचाकर अपने आसपास के घर के सदस्यों को इकट्ठा कर पंजाब पुलिस के कर्मचारियों के साथ मारपीट की और बंधक बनाया लिया.

बदमाशों ने पुलिस कांस्टेबल को बंधक बनाकर की मारपीट

पंजाब पुलिस ने गोरीवाला पुलिस को इसकी सूचना दी और सूचना पाकर गोरीवाला पुलिस चौकी प्रभारी सुरेश कुमार ने अन्य साथियों ने मौके पर पहुंचकर पंजाब पुलिस कर्मचारियों की पहचान करते हुए उन्हें छुड़ाकर अस्पताल में इलाज के लिए दाखिल करवाया. पीड़ित पंजाब पुलिस के हेड कांस्टेबल परमिंद्र कुमार ने बताया कि वह साहिब जादा अजीत सिंह नगर मोहाली के थाना माजरी में आरोपी के खिलाफ दर्ज एक मामले के अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए बतौर आईओ हरियाणा में आए थे.

जैसे ही वो रिसालिया खेड़ा ढाणी में तलाशी के लिए आये उन पर तथा 2 अन्य साथियों पर परिवार वालों ने हमला बोल दिया तथा उनको बंधक भी बनाया. वहीं चौकी प्रभारी सुरेश कुमार ने बताया कि पंजाब पुलिस की सूचना के बाद मैं टीम के साथ ढाणी में पहुंचे और पुलिसकर्मियों को बंधक बनाए हुए थे. हरियाणा पुलिस ने उन्हें वहां से छुड़ाया गया तथा परमिंदर सिंह के बयानों के आधार पर 7 लोगों पर पुलिस के साथ मारपीट और बंधक बनाए जाने का मामला दर्ज किया गया है.
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें