BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शनिवार, दिसंबर 15, 2018

अग्रिकांड के शहीदों की स्मृति में युवा रक्तदान सोसायटी 23 दिसंबर को करेगी रक्तदान शिविर का आयोजन

#dabwalinews
डबवाली -
23 दिसंबर 1995 को यहां हुए भीष्ण अग्रिकांड के शहीदों की स्मृति में शहरवासियों के संपूर्ण सहयोग से 23 दिसंबर 1996 से प्रतिवर्ष अग्रिकांड की बरसी पर विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन कर रही संस्था युवा रक्तदान सोसायटी(रजि.)द्वारा इस वर्ष भी 23 दिसंबर को प्रात: 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक स्थानीय अग्रवाल धर्मशाला में 111वें विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। संस्था के संस्थापक सुरेंद्र सिंगला की अध्यक्षता में गौशाला संत निवास भवन में संपन्न हुई एक बैठक में यह निर्णय लिया गया कि संस्था द्वारा यह शिविर लायंस क्लब सुप्रीम एवं लायंस क्लब आस्था के साथ मिलकर आयोजित किया जाएगा।
यह जानकारी देते हुए संस्था के अध्यक्ष हरदेव गोरखी एवं सचिव रूपिंद्र गोयल ने बताया कि शहर के समाजसेवी अनिल गोयल एवं प्रशांत मेहता को संस्था की सदस्यता प्रदान की गई। उन्होंने बताया कि शिविर की सफलता को लेकर तीनों संस्थाओं की एक संयुक्त बैठक 19 दिसंबर को सांय 6 बजे गौशाला के संत निवास भवन में रखी गई है। शिविर में स्वेच्छा से रक्तदान करने वाले महानुभावों से रक्त प्राप्त करने के लिए बठिंडा से दो ब्लड बैंक एवं नईं दिल्ली से एक ब्लड बैंक की टीम शिविर में पहुंच रही है। शिविर में स्वेच्छा से रक्तदान करने वाले प्रत्येक रक्तदाता को प्रशंसा पत्र एवं बैज लगाकर सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि संस्था द्वारा एवं इलाका की संस्थाओं के संपूर्ण सहयोग से 23 दिसंबर 1997 में अग्रिकांड की दूसरी बरसी पर स्थानीय महाराणा प्रताप महिला महाविद्यालय में 5 दिवसीय विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया था जिसमें 3 हजार से अधिक पुरूष/महिलाओं ने स्वेच्छा से रक्तदान कर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की थी। उन्होंने बताया कि संस्था द्वारा वर्ष 1984 से रक्त की जरूरत को देखते हुए आरंभ किए गए रक्तदान अभियान में आज प्रत्येक गांव और शहर का स्वस्थ युवक/युवती रक्तदान करने के लिए स्वयं को शामिल कर रहा है। यही कारण है कि आज डबवाली क्षेत्र में प्रतिदिन किसी न किसी गांव एवं शहर में विभिन्न संस्थाओं द्वारा रक्तदान शिविरों का आयोजन कर डबवाली का नाम रक्तदान क्षेत्र में रोशन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक 18 से 60 वर्ष की आयु वाले पुरूष/महिला को निसंदेह जरूरतमंद मरीजों के साथ-साथ स्वयं भी स्वस्थ रहने के लिए प्रत्येक तीन माह बाद रक्तदान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि डबवाली को अन्य शहरों में रक्तदानियों की मंडी के नाम से पुकारा जाताा है जोकि प्रत्येक क्षेत्रवासी के लिए गौरव की बात है। इस बैठक में दविंद्र मित्तल, पंकज गोयल, कुशल गर्ग, बलजीत शर्मा, अनिल गोयल, सर्वप्रीत सेठी एवं पदाधिकारी, सदस्य उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज