BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, जनवरी 31, 2019

उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने रात्रि ठहराव कार्यक्रम के तहत गांव मलिकपुरा में लगाया खुला दरबार

उपायुक्त ने खुले दरबार में सुनी शिकायतें, मौके पर ही संबंधित अधिकारियों को दिये दिशा निर्देश
#dabwalinews 31 जनवरी।
लोगों की समस्याएं सुनने एवं उनका मौके पर ही समाधान सुनिश्चित करने के उद्देश्य से ओढां खंड के गांव मलिकपुरा स्थित राजकीय उच्च विद्यालय में जिला प्रशासन द्वारा रात्रि ठहराव कार्यक्रम के तहत खुला दरबार लगाया गया। इस खुले दरबार में उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने लोगों की 149 शिकायतें एवं समस्याएं सुनी। इनमें से अधिकतर का मौके पर ही समाधान सुनिश्चित कर दिया गया और शेष समस्याओं के निपटान के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए ताकि प्राथमिकता के आधार पर जनसमस्याओं को निपटाया जा सके और लोगों को सुविधाएं उपलब्ध हो सके।
कार्यक्रम की अध्यक्षता गांव मलिकपुरा के सरपंच गुरमीत सिंह सरां ने की। इस खुले दरबार में सरपंच द्वारा गांव में विकास कार्यों के लिए मांग पत्र प्रस्तुत किया गया, जिसमें 14 लाख रुपये की अनुमानित राशि से बनने वाले गांव में पशु अस्पताल भवन का निर्माण, 12 लाख 50 हजार रुपये की राशि से राजकीय उच्च विद्यालय में दो कमरों का निर्माण एवं 11 लाख रुपये की अनुमानित राशि से गांव में शमशान भूमि तक आईपीबी रास्ते का निर्माण भी शामिल है। उपायुक्त ने इन विकास कार्यों के लिए डी-प्लान से पूरा करवाने का आश्वासन दिलाया।

इस खुले दरबार में जिला प्रशासन द्वारा जिला रैडक्रॉस सोसायटी के सौजन्य से 4 दिव्यांगों को ट्राई साईकिल मौके पर ही भेंट की गई। इन लाभार्थियों में वीर सिंह, गुरप्रीत सिंह, हजारी शर्मा व महिला बिंद्र भी शामिल रही। इसके अलावा एक अन्य दिव्यांग जसपाल की मांग के अनुसार उसके कृत्रिम अंग की रिपेयर करवाने एवं गांव पक्का शहीदां के दिव्यांग भौला सिंह की सहायता के लिए जिला रैडक्रॉस सोसायटी के सचिव को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।
इस खुले दरबार में अधिकतर समस्याएं नाजायज कब्जे हटवाने की रही। इसके लिए उपायुक्त ने संबंधित खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी को मौका मुआयना कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इसके अलावा गली का निर्माण अधूरा रहने पर रखी गई समस्या के समाधान के लिए उपायुक्त ने बीडीपीओ को चैक करवा कर रिपोर्ट भिजवाने के निर्देश दिये। इसी प्रकार प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित समस्याओं के समाधान के उप निदेशक कृषि को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। राशन वितरण में अनियमित्ता से संबंधित शिकायत का संज्ञान लेते हुए इस खुले दरबार में उपायुक्त के दिशा निर्देशानुसार जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक ने बताया कि संबंधित डिपू होल्डर की जांच कर उसकी सप्लाई सस्पैंड कर दी गई है।
खुले दरबार में वाटर सर्विसिज से संबंधित नहरी पानी की समस्या रखने पर उपायुक्त के दिशा निर्देशानुसार संबंधित अधिकारी ने बताया कि 73.30 लाख रुपये की लागत से बनने वाले मलिकपुरा वाटर सर्विसिज स्कीम की प्रशासनिक स्वीकृति के लिए मुख्यालय केस भेजा गया है ताकि किसानों को सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध हो सके। साथ ही इस अवसर पर लोगों द्वारा बीपीएल कार्ड, बिजली, नहरी पानी, पैंशन, पेयजल, स्वास्थ्य, पुलिस, शिक्षा व अन्य विभागों से संबंधित समस्याएं रखी गई जिनके त्वरित समाधान के लिए मौके पर ही मौजूद अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गए।
इस मौके पर विभिन्न विभागों द्वारा स्कीमों व गतिविधियों को दर्शाती हुई स्टॉले लगाई गई थी जिनका ग्रामीणों ने भरपूर लाभ उठाया। ग्रामीणों ने स्टॉलों पर जाकर पैंशन, राशन कार्ड, आधार कार्ड व अन्य आवश्यक दस्तावेज मौके पर ही बनवाने की प्रक्रिया पूरी की। ग्रामीणों ने स्टॉल पर उपस्थित संबंधित विभाग के अधिकारियों / कर्मचारियों से सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं की जानकारी भी प्राप्त की। खुले दरबार में स्वास्थ्य व आयुष विभाग ने भी अपने स्टॉले लगाई हुई थी, लोगों ने इनका भरपूर लाभ उठाया। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों के 150 मरीजों के स्वास्थ्य की जांच की और उन्हें निशुल्क दवाईयां भी वितरित की। इसी प्रकार आयुष विभाग के चिकित्सकों ने भी लोगों के स्वास्थ्य की जांच की और निशुल्क आयुर्वेदिक दवाईयों का वितरण किया गया।
इस मौके पर केएल थियेटर के कर्ण लड्डा के निर्देशन में कलाकारों द्वारा 'नशा अभिशाप हैÓ नाटक का मंचन कर लोगों को इस सामाजिक बुराई से दूर रहने का संदेश दिया गया। उपायुक्त ने नशामुक्ति पर आधारित नाटक की सराहना करते हुए कहा कि कलाकारों ने सामाजिक संदेश देने का प्रयास किया है। इसलिए घर-घर नशामुक्ति का संदेश पहुंचना चाहिए ताकि हमारा समाज व गांव नशा से पूर्ण रुप से मुक्त हो। उन्होंने आने वाली पीढिय़ों के लिए नशे को घातक बताया और इससे दूर रहने की भी सलाह दी। उन्होंने खुले दरबार के महत्व की भी जानकारी देकर लोगों से इसका अधिक से अधिक लाभ उठाने का आह्वïान किया।
इससे पूर्व जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी सुरेंद्र कुमार वर्मा की उपस्थिति में विशेष प्रचार अभियान के तहत विभाग की भजन मंडली ने बेटी बचाओ-बेटी पढाओ, स्वच्छता व सामाजिक कुरीतियों को दूर करने का संदेश वाले भजन व गीत सुनाकर लोगों की संवेदनाओं को जगाने का काम किया गया। इस मौके पर विभाग द्वारा जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी से ग्रामीणों को अवगत करवाया गया।
इस अवसर पर एसडीएम बिजेंद्र सिंह, बिजली निगम के एक्सईएन डीआर वर्मा, डीआईपीआरओ सुरेंद्र कुमार वर्मा, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के एक्सईएन तरुण गर्ग, जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक अशोक बंसल, सिविल सर्जन डा. गोबिंद गुप्ता, उप निदशेक कृषि डा. बाबूलाल, पीओ आईसीडीएस डा. दर्शना सिंह, स्वच्छ भारत मिशन के जिला सलाहकार सुखविंद्र सिंह, जिला रैडक्रॉस सोसायटी के सहायक सचिव लाल बहादुर बेनीवाल सहित अन्य विभागों के अधिकारी, ब्लॉक समिति चेयरमैन मनोज शर्मा, गांव मलिक पुरा के सरपंच गुरमीत सिंह सरां, पंच अमनदीप कौर, इकबाल सिंह, गुरमीत सिंह, बिंद्र कौर, गोविंदा, कुलविंद्र सिंह, सुखजीत कौर, सुनील, रमेश, बाबा गुरमीत सिंह, पूर्व सरपंच गुरजंट सिंह थिराज, अजैब सिंह व अन्य पदाधिकारी एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज