BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, जनवरी 29, 2019

सेंट जोसफ हाई स्कूल मामला:- धर्मपरिवर्तन मामले में आया नया मोड़, परिजनों ने की कार्रवाई की मांग


डबवाली।
बठिंडा रोड स्थित सेंट जोसफ हाई स्कूल में एक हिंदू छात्र-छात्रा पर ईसाई बनने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने शहर के महिला थाना में शिकायत दर्ज करवाई थी, लेकिन सोमवार को मामले में एकाएक नया मोड़ आ गया और छात्रा के पिता ने अपने आप को दबाब में बताते हुए मामले को दौबारा उठाया और स्कूल प्रिंसिपल व अन्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। मिली जानकारी अनुसार सोमवार को छात्र व छात्रा के पिता कुलवीर सिंह ने शहर के गणमान्य लोगों जिला सिरसा के सह संघ चालक व आर्य समाज के प्रधान एसके दुआ, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के नगर कार्यवाह नरेश गर्ग, गौसेवा आयोग हरियाणा के सदस्य राम लाल बागड़ी, भाजपा के मंडलाध्यक्ष विजयंत शर्मा, रामकिशन मैहता, सतीश गर्ग, विश्व हिंदु परिषद के सुदर्शन मित्तल, अधिवक्ता राधेश्याम चलाना, रवि सेठी, जसविंद्र सिंह आर्य, श्याम सुंदर चलाना सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ शहर के महिला थाना पहुंचकर उक्त मामले में कार्रवाई की मांग की। गौरतलब है कि पुलिस ने पीडि़त छात्रा की शिकायत पर प्रिंसिपल सहित अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था और ड्यूटी मजिस्टे्रट के समक्ष छात्रा के ब्यान भी दर्ज करवाए थे लेकिन सोमवार को छात्रा के पिता ने उन पर व बच्चों पर दबाव बनाने के आरोप लगाते हुए कहा कि उनके द्वारा जो ब्यान करवाए गए थे, उस समय वह दबाव में थे जिस कारण वह सही ब्यान नहीं दर्ज करवा सके। वह दौबारा अपने ब्यान दर्ज करवा उक्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हैं।
गौरतलब है कि बीते दिवस उक्त मामले में सिरसा रोड स्थित धालीवाल नगर निवासी पीडि़ता के पिता कुलवीर सिंह ने पुलिस को दिए ब्यान में बताया था कि उसकी बेटी व एक बेटा सेंट जोसफ हाई स्कूल में पढ़ते हैं। जहां स्कूल प्रिंसिपल जैरीपोलो द्वारा उनके हिंदू धर्म को लेकर रोजाना बच्चों पर दबाब बनाते थे। जिसके चलते बच्चे मानसिक तौर पर परेशान रहने लगे। जिसकी शिकायत स्कूल के उच्चाधिकारियों को भेजी तो वह मामले को दबाने के लिए जान से मारने की धमकियां देने लगे। उन्होंने कहा कि स्कूल के ईसाई धर्म से संबध होन के कारण आरोपित उन पर दबाब बनाते थे कि वे  ईसाई बन जाए हमने आस्था नहीं दिखाई तो धर्म के नाम पर बार बार बेईज्जत किया जाने लगे। आरोप है कि  उनके द्वारा हिंदू से ईसाई धर्म न अपनाने पर बच्चों को स्कूल से निकाले जाने की धमकी देते हुए उनके साथ ऐसा कार्य करेंगे की वह किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगी। मामले संबधी शहर महिला थाना प्रभारी सुशील बाला ने आरोपित प्रिंसिपल जैरीपोलो, फादर डोमिनिक, सर ऐन्टोनियो, विनीता के खिलाफ पोक्सो एक्ट, धारा 297, 34 आईपीसी, 506 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की।
इस संबंध में शहर थाना प्रभारी कंवर सिंह ने बताया कि उक्त मामले में उनके पास सोमवार को शिकायत कर्ता व शहर के कुछ अन्य लोग मिलने आए थे और मामले में कार्रवाई की मांग की। मामले की जांच की जा रही है। जांच उपरांत आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज