BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

बुधवार, जनवरी 30, 2019

महिला के साथ सेक्सुअल हैरसमेंटऔर छेड़छाड़:- "शरीर पर डाला गर्म पानी,प्राइवेट पार्ट में मिर्ची"

नई दिल्ली-
देश की राजधानी से दिल को दहला देने वाली एक घटना सामने आई है। कुतुब विहार इलाके में एक प्राइवेट शेल्टर होम में एक 50 साल की महिला के साथ सेक्सुअल हैरसमेंटऔर छेड़छाड़ किए जाने का मामला सामने आया है। दिल्ली महिला आयोग की टीम 23 जनवरी को इस शेल्टर होम के दौरे पर पहुंची थी, जहां एक महिला ने टीम को यह शिकायत दी कि शेल्टर होम के अधिकारी उनके साथ सेक्सुअल हैरसमेंट करते हैं और उन्हें बुरी तरह से परेशान करते हैं। फिलहाल महिला को दूसरे शेल्टर होम भेज दिया गया है। इस मामले में एफआईआर भी दर्ज कर ली गई है| दिल्ली महिला आयोग की टीम ने दौरे के दौरान शेल्टर होम में कई गड़बड़ियां पाईं। इस दौरान 50 साल की एक महिला ने टीम को बताया कि होम के पुरुष अधिकारियों के सामने उनके प्राइवेट पार्ट्स में मिर्च पाउडर और नमक डाला गया। उन्होंने बताया कि होम के अधिकारी उन्हें पीटते हैं और उनके ऊपर गर्म पानी डालते हैं। इस महिला ने पांच लोगों के खिलाफ आरोप लगाए हैं, जिनमें से दो पति-पत्नी हैं|
महिला की शिकायत पर टीम ने तुरंत दिल्ली पुलिस को खबर दी। पुलिस मौके पर पहुंची और महिला को थाने ले जाया गया। इसके बाद छावला थाने में आईपीसी की धारा 354/354B/323/34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। महिला को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया और अब उन्हें दूसरे शेल्टर होम में रखा गया है। दिल्ली महिला आयोग की चीफ स्वाति जय हिंद का कहना है, जो भी व्यक्ति शेल्टर होम में रहने वालों पर अत्याचार कर रहे हैं, उन्हें सख्त सजा दी जानी चाहिए और ऐसे शेल्टर होम के लाइसेंस रद्द होने चाहिए।

दिल्ली महिला आयोग की मेंबर प्रोमिला गुप्ता की अगुवाई में टीम शेल्टर होम 23 जनवरी को गई थी। टीम ने यह भी पाया कि रिकॉर्ड बुक में दर्ज संख्या से ज्यादा महिलाएं और लड़कियां शेल्टर होम में रह रही थीं। यह भी देखा गया कि शेल्टर होम के अधिकारियों का काम न करने और उनका आदेश न मानने पर महिलाओं को कठोर दंड दिया जाता था। आयोग का कहना है कि पहले भी आयोग ने यहां से चार लड़कियों को छुड़वाया था और इसका लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश की है।




source NBT netwoork 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज