BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

सोमवार, फ़रवरी 11, 2019

जैन धर्म तेरापंथ धर्मसंघ ने 155वां मर्यादा महोत्वस मनाया

डबवाली/कालांवाली।
जैन धर्म तेरापंथ धर्मसंघ के 11वें अनुव्रत अनुशास्ता महातपस्वी आचार्य श्री महाश्रमण जी आज्ञानुव्रती साध्वी श्री सुमनश्री, साध्वी श्री सुरेखा जी, साध्वी श्री मधुरलता जी, साध्वी मननप्रभा जी एवं साध्वी रिद्धी श्री जी के सानिध्य में तेरापंथ भवन कालांवाली में 155वां मर्यादा महोत्वस बड़े ही मंगलमय व श्रद्धांभाव से मनाया गया। यह जानकारी देते हुए तेरापंथ सभा डबवाली के सचिव दीपक गर्ग ने बताया कि इस अवसर पर साध्वी श्री सुमनश्री जी ने श्रावकों को संबोधित करते हुए कहा कि जैन धर्म तेरापंथ सभी धर्मों में अकेला ही ऐसा धर्म है जिसमें मार्यादाओं का भी महोत्सव मनाया जाता है। तेरापंथ के आर्ध प्रवत्कआचार्य भिक्षु द्वारा स्थापित मर्यादाएं संघ के आचार्य, साध्वियों एवं श्रावकगण भी सैंकड़ों वर्षों से इन मार्यादाओं से बंधे हुए हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमारी मार्यादाएं ही संघ की ताकत हैं। जो इसको सैंकड़ों वर्षो से जोड़े हुए है और संघ में एक गुरू और एक विधान ही संघ की पहचान है। इस अवसर पर सहयागी साध्वियों ने भी मर्यादा महोत्सव पर रचित गीत गाया। इस मौके पर महिलामंडल, कन्यामंडल एवं ज्ञानशाला के बच्चों ने विभिन्न नाटिकाओं एवं गीतों के द्वारा तेरापंथ और मर्यादा महोत्वस के बारे में प्रस्तुतियां दी। मंच संचालन अरूण गर्ग ने बखूबी किया। संघ के अध्यक्ष हरिश सिंगला ने सभी आए हुए श्रवकों का स्वागत किया एवं कार्यक्रम में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। इस अवसर पर आसपास के गांवों व शहरों से भारी संख्या में श्रावकों कार्यक्रम में पहुंचे। कार्यक्रम के अंत में तेरापंथ महासभा कोलकाता के सदस्य दिनेश जैन ने आए हुए सभी श्रवकों/श्राविकाओं का आभार जताया। मंगलपाठ के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज