BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, मार्च 12, 2019

गांव डबवाली में शादी समारोह मेंसिलेंडर में आग लगी, बड़ा हादसा टला




 डबवाली :गांव डबवाली में सोमवार को शादी समारोह में आग लगने से हड़कंप मच गया। आग गैस सिलेंडर में लीकेज होने से लगी थी। आग धधकी तो हलवाई और कन्या पक्ष के लोग भाग कर गली में आ गए। कुछ लोगों ने मिट्टी, पानी उडे़ल कर आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन आग नहीं बुझी। एक महिला की सूचना पाकर दमकल केंद्र डबवाली की टीम मौके पर पहुंची। टीम सदस्यों ने आग पर नियंत्रण पाने के बाद सिलेंडर को बाहर निकाला। आग लगने से बारात के स्वागत के लिए तैयार किया गया सामान खराब हो गया। सूचना पाकर शहर थाना पुलिस भी मौका पर पहुंची।

गांव डबवाली निवासी राजेंद्र सिंह ने बताया कि सामुदायिक केंद्र न होने की वजह से शादी घर पर करना मजबूरी है। सोमवार को उसकी भतीजी की शादी थी। बारातियों तथा मेहमानों के लिए पड़ोस में पकवान बनाए जा रहे थे। वहां कन्या पक्ष के करीब 60 से 65 लोग बैठे हुए थे। एक गैस सिलेंडर खत्म हो गया। दूसरा गैस सिलेंडर लगाया गया तो लीकेज की वजह से आग लग गई। एक बारगी हलवाई अर्जुन दास ने आग पर काबू पा लिया। दोबारा फिर रेगुलेटर ऑन किया तो आग धधक गई। आग इतनी तेजी से फैली कि हड़कंप मच गया। वहां मौजूद लोग गली में छलांग लगाकर भाग निकले। वहीं हलवाई तथा उसके साथ आए तीन लोग भी सामान छोड़कर निकल गए। कुछ ग्रामीणों ने मिट्टी तथा पानी का प्रयोग करके आग पर काबू पाने का प्रयास किया। बाद में दकल केंद्र की गाड़ी पहुंच गयी। हलवाई बोला पकौड़े गर्म करने लगा तो सिलेंडर ने पकड़ी आग

हलवाई अर्जुन दास (63) निवासी डबवाली ने बताया कि बारात आ गई थी। लड़की वाले स्वागत की तैयारियों में जुट गए थे। उसे निर्देश मिले थे कि वह पकौड़ों को गर्म कर ले। जैसे ही उसने नया सिलेंडर लगाया तो गैस का रिसाव होने से आग लग गई। आग भयानक रुप ले चुकी थी। समय रहते आग पर नियंत्रण नहीं पाया जाता तो बड़ा हादसा घटित हो सकता था। 
यह प्रबंध होने चाहिए

गैस सिलेंडर पर आइएसआइ मार्का पाइप प्रयोग करनी चाहिए। यहां ज्वलनशील पदार्थ हैं, उसके निकट पर्दे नहीं होने चाहिए। आग लगने की स्थिति में पानी, मिट्टी का प्रबंध होना चाहिए। सुरक्षा प्रबंधों से ही आग से बचाव किया जा सकता है।

-कर्म सिंह, एएफएसओ, दमकल केंद्र, डबवाली





क्रेडिट जागरण ग्रुप 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज