BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मंगलवार, मार्च 05, 2019

पीएम-एसवाईएम बनेगी श्रमिकों के बुढापे का सहारा : जगदीश चोपड़ा

डबवाली न्यूज़
सिरसा --
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुजरात के इलाहबाद से प्रधानमंत्री श्रमयोगी मान-धन पैंशयोजना का विधिवत शुभारंभ किया। इसी कड़ी में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन स्थानीय लघु सचिवालय में किया गया। इस अवसर पर हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन जगदीश चोपड़ा ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री द्वारा दिये गये संबोाधन को लाईव दिखाया गया। इस दौरान मुख्यअतिथि ने प्रधानमंत्री श्रमयोगी मान-धन पैंशन योजना के तहत अच्छा कार्य करने वाले कॉमन सर्विस सैंटर संचालकों को सम्मानित भी किया।
श्री चोपड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो वायदा गरीब व किसान के उत्थान की दिशा में कदम उठाने का किया था, उसे योजनाएं लागू कर पूरा कर दिया है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने सत्ता संभालते ही संकेत दे दिए थे कि यह सरकार गरीब व आम व्यक्ति की सरकार होगी और इनके उत्थान के लिए ऐतिहासिक निर्णय लेने का काम करेगी। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा संसद में श्रमिकों व कामगारों के लिए संसद में की गई घोषणा को आज प्रधानमंत्री श्रमयोगी मान-धन पैंशन योजना के रूप में लागू कर पूरा कर दिया है, जिसका शुभारंभ प्रधानमंत्री ने स्वयं अपने हाथों से कर श्रमिकों के लिए एक ऐतिहासिक कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि यह योजना श्रमिकों के भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित करने का काम करेगी, जोकि श्रमिकों के बुढापे का सहारा बनेगी। जिस प्रकार प्रधानमंत्री मोदी ने श्रमिकों के लिए हितकारी योजना लागू की है, उसी प्रकार हाल ही में किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना चलाई है, जिसका शुभारंभ भी प्रधानमंत्री ने ही किया था। योजना के तहत किसानों के खातों में किश्त के रूप में 2 हजार रुपये डाल दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों के उत्थान के लिए अनेकों योजनाएं लागू की है। देश के प्रधानमंत्री व प्रदेश के मुख्यमंत्री आम जनता को मूलभूत सुविधाएं देने के लिए दिन रात मेहनत कर अनेक जनहितैषी निर्णय ले रहे हैं। केंद्र व प्रदेश सरकार गरीबों, मजदूरों, श्रमिकों, व्यापारियों, किसानों, कर्मचारियों के हितार्थ अनेक सराहनीय कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना लागू करके गरीबों को सहारा दिया है। इस योजना के तहत 5 लाख रुपये तक का ईलाज पैनल में शामिल किसी भी अस्पताल में निशुल्क करवाया जा सकता है। यह योजना भी गरीबों के लिए एक वरदान साबित हुई है।
उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने गरीब परिवार की महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उज्जवला योजना लागू की है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना लागू की है जिसके तहत 5 एकड़ तक के किसान को 6 हजार रुपये वार्षिक तीन समान किश्तों में दिये जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारा सौभाग्य है कि हमें देश व प्रदेश में ईमानदार नेतृत्व मिला है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने गरीब व किसान के लिए जिन ऐतिहासिक योजनाओं की संसद में खड़े होकर घोषणा की थी आज उन्हें धरातल पर लागू कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पीएम-एसवाईएम योजना असंगठित क्षेत्र के कामगारों के बुढापे का सहारा बनेगी। उन्होंने कहा कि इस योजना का लाभ किसी भी सीएचसी सैंटर से पंजीकरण करवा कर लिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया के तहत भ्रष्टïाचार पर लगाम लगी है तथा समयबद्घ सेवाएं दी जा रही है।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पैंशन योजना का मुख्य उद्ïेश्य असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले मजदूरों, श्रमिकों व कामगारों के भविष्य को उज्जवल व बुढापे को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है। इस योजना के लाभ के लिए सिरसा जिला के पात्र श्रमिक अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सैंटर यानि अटल सेवा केंद्रों अथवा अंत्योदय व सरल केंद्रों पर जाकर अपना नाम पंजीकृत करवा सकते हैं। पंजीकृत करवाने के लिए श्रमिक को आधार कार्ड की फोटो प्रति के साथ-साथ अपना बैंक खाता नंबर एवं मोबाईल नम्बर की जानकारी देनी होगी।
इस योजना के लाभ के लिए पात्र श्रमिक को केवल एक बार पहले अंशदान की राशि जमा करवानी अनिवार्य है। उसके बाद की समस्त अंशदान की राशि सरकार द्वारा वहन की जाएगी। केंद्र सरकार ने अपने अंतरिम बजट में उम्र के अनुसार 55 रुपये मासिक से लेकर 200 रुपये मासिक का अंशदान जमा करवाने का प्रावधान किया था। जितनी राशि श्रमिक जमा करवाएं उतनी ही राशि सरकार को जमा करवानी थी। लेकिन श्रमिकों के हितैषी मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने राज्य में सरकार द्वारा स्वयं अंशदान भरने का ऐतिहासिक निर्णय लेकर कामगारों व श्रमिकों को तोहफा प्रदान किया है। सिर्फ एक बार ही पहला संबंधित पात्र श्रमिक को भरना होगा बाकी का अंश सरकार जमा करवाएगी।
हरियाणा भवन सनिर्माण एवं कर्मकार बोर्ड के सदस्य रोहताश जांगड़ा ने कहा कि असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले 18 से 40 वर्ष आयु के मनरेगा, आशा वर्कर्स, आंगनवाड़ी वर्कर्स, मिड डे मिल वर्कर्स, सिर पर बोझ ढोने वाले ईंट-भट्ïठा मजदूर, खेतीहर व दिहाड़ीदार मजदूर, भवन निर्माण से जुड़े श्रमिक, नाई, धोबी, रिक्शा चालक, भूमिहीन मजदूर, चमड़े का काम करने वाले मजदूर, हथकरघा श्रमिक, कचरा बिनने वाले, कूड़ा उठाने वाले, गांव-गांव में फेरी करने वाले, घरेलू कामगार व इसी तरह के अन्य व्यवसाय में काम करने वाले श्रमिक जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है, जो आयकरदाता नहीं हैं, ऐसे श्रमिकों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। योजना के तहत 60 वर्ष की आयु पूरी करने पर ही पंजीकृत श्रमिकों को प्रत्येक को 3 हजार रुपये मासिक पैंशन देने का प्रावधान किया गया है। यदि पैंशनर की मृत्यु हो जाती है तो योजना के तहत पैंशन की आधी राशि उसकी पत्नी को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं के तहत श्रम विभाग द्वारा पंजीकृत श्रमिकों को अनेकों योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है जिसमें कन्यादान योजना, सिलाई मशीने, औजार योजना, साईकिल योजना, शिक्षा भत्ता आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा कन्यादान योजना के तहत एक लाख एक हजार रुपये कन्यादान के तौर पर दिये जाते हैं।
उन्होंने पात्र श्रमिकों से अपील की कि वे अपने नजदीकी अटल सेवा व अंत्योदय एवं सरल केंद्रों में जाकर अपना पंजीकरण करवाएं और अपने भविष्य को सुरक्षित बनाएं। योजना की अधिक जानकारी के लिए पात्र श्रमिक श्रम विभाग के दूरभाष नम्बर 01666-247012 पर संपर्क किया जा सकता है। श्रम विभाग द्वारा श्रमिकों को योजना के बारे में जागरूक करने व विस्तृत जानकारी देने के साथ-साथ मौके पर ही पंजीकरण करवाने की प्रक्रिया पूरी की जा रही है, इसके लिए ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में कैंप लगाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री की इस घोषणा से राज्य में लाखों लोग लाभांवित होंगे। इनमें सिरसा जिला के निर्माण कार्यों में लगे लगभग 24 हजार श्रमिकों को भी लाभ पहुंचेगा।
इस अवसर पर कार्यकारी नगराधीश प्रीतपाल सिंह, डीआरओ राजेंद्र कुमार, सहायक निदेशक श्रम विभाग विवेक बत्रा, इनफोर्समैंट ऑफिसर अनुरंजन कपूर, सहायक अंकुर रहेजा, उप निदेशक डीआईसी गुरप्रताप सिंह बराड़, लेखाकार मक्खन सिंह, कार्यकारी डीआईओ सुषमा, इंस्पेक्टर संजीव चौहान, सहायक ललित कुमार, श्रम निरीक्षण कमलेश, ई-डिस्ट्रिक मैनेजर गुरजीत कौर, मार्केट कमेटी डिंग के चेयरमैन राजबीर गोदारा, सुरेश पंवार, जिला पार्षद नक्षत्र सिंह, निरंजन सिंह, नारायण पाल, जगत कक्कड़, कृष्ण मेहता, लखविंद्र सिंह, मेनपाल, बुधराम, परमजीत सिंह, ऊषा बिदलान, भावना शर्मा उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज