BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

शुक्रवार, मार्च 08, 2019

हर महिला मां, बेटी, अधिकारी,डॉक्टर और हर तरह के कार्यकारी भूमिका निभाने में सक्षम होती है-डॉ दीप्ति शर्मा

 dabwali news 
महिलाओं के योगदान और महत्व को पहचानने के लिए मिलेनियम स्कूल डबवाली NH9 मलोट रोड पर स्थित में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया इस उत्सव की शुरुआत बड़े ही धूमधाम से स्कूल के शिक्षक द्वारा प्रस्तुत महिलाओं के लिए एक गीत मेरी मां के साथ की गई इसके बाद cake cutting करके इसे और भी धूमधाम से मनाया गया प्रस्तुति में महिलाओं की सक्षमता के बारे में संदेश पर प्रकाश डाला गया महिलाओं की बौद्धिक क्षमता इतनी उच्च जिम्मेदारी रखने में सक्षम है जितनी कुशलता से पुरुष कर सकते हैं इस महान दिवस पर स्कूल अध्यक्ष डॉ दीप्ति शर्मा और स्कूल के अध्यापकों ने मंडी डबवाली से उन महिलाओं को बुलाकर सम्मानित किया जिन्होंने अपने जीवन में उच्च स्थान हासिल किया डॉक्टर राजविंदर कौर, डॉक्टर स्वाति और सुमन कामरा ने पहुंचकर कार्यक्रम का मनोबल बढ़ाया और शिक्षकों ने उनको गुलाब देकर सम्मानित किया स्कूल के अध्यक्ष डॉक्टर दीप्ति शर्मा ने स्कूल के शिक्षकों और शहर की हर महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि हर महिला मां, बेटी, अधिकारी,डॉक्टर और हर तरह के कार्यकारी भूमिका निभाने में सक्षम होती है और अध्यक्ष डॉ दीप्ति शर्मा ने इस महान दिवस के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि हर वर्ष 8 मार्च को पूरे विश्व में महिलाओं के सम्मान के लिए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है इस अवसर पर स्कूल के अध्यक्ष ने सभी महिला को संबोधित करते हुए शायरी सुनाई
देवी का दामन है बड़ा,
दिया उसने अपना प्यार सारा,
कहलाई वो स्त्री, कहलाई वो नारी,
बनकर एक आदर्श उसने किया जग को उजियारा
उन्होंने बताया जहां नारी की पूजा होती है वही देवता निवास करते हैं अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य महिलाओं की समानता के लिए आवाज उठाना है। इस दिन उन महिलाओं के कार्यों को याद किया जाता है जो किसी क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देती हैं। भारत में भी महिला दिवस व्यापक रूप से मनाया जाने लगा है। देश में इस दिन महिलाओं को समाज में उनके विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया जाता है और समारोह आयोजित किए जाते हैं। महिलाओं के लिए काम कर रहे कई संस्थानों द्वारा कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। समाज, राजनीति, संगीत, फिल्म, साहित्य, शिक्षा क्षेत्रों में श्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए महिलाओं को सम्मानित किया जाता है। अंत में सभी अध्यापकों और स्कूल अध्यक्ष ने मिलकर नारी शक्ति के महत्व को बताते हुए नारा लगाया
नारी तुम स्वतंत्र हो
जीवन धनयंत्र हो
काल के कपाल पर
लिखा सुख मंत्र हो
कार्यक्रम का समापन सभी के साथ स्नैक्स के साथ किया गया





कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज