BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

बुधवार, अप्रैल 17, 2019

मान मनोव्वल का दौर: डा. केवी सिंह से मिलने पहुंचे अशोक तंवर, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सुनाई खूब खरी खोटी

डबवाली न्यूज़
राजनीति के रंग समय के साथ बदलते रहते हैं। खासकर जब चुनाव आते हैं तो मान मनोव्वल का दौर सबसे पहले शुरू होता है।
जब रूठे मानेंगे तो वोट मिलेंगे और तभी राजनीति की गाड़ी आगे बढ़ पाएगी। लोकसभा चुनावों की प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही कांग्रेस में गिले-शिकवे मिटाने का दौर शुरू हो गया। बात कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष डा. अशोक तंवर की सीट की हो तो इसका राजनीतिक महत्व समझा जा सकता है। वैसे भी सभी लोगों को जिस बात का इंतजार था, मंगलवार को वही हुआ। मंगलवार दोपहर बाद डा. अशोक तवर डबवाली में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता डा. के वी सिंह का समर्थन हासिल करने के लिए उनके कार्यालय में आए। पिछले काफी समय से अशोक तंवर व डा. केवी सिंह के बीच दूरियां बनी होने की चर्चाएं चल रही हैं। बताया जाता है कि दोनों के बीच कई गिले शिकवे थे, जिन्हें आमने-सामने बैठकर मिटाने के लिए ही प्रदेशाध्यक्ष को यहां आना पड़ा।
अशोक तंवर व केवी सिंह के बीच पहले कांग्रेस कार्यालय में मुलाकात हुई तो काफी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता मौजूद थे। इस दौरान डा. केवी सिंह ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपनी बात रखने के लिए कहा। इसके साथ ही प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर के साथ कार्यकर्ताओं की नाराजगी खुल कर सामने आ गई। कुछ वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तंवर साहब को खूब खरी-खोटी सुनाई। इस बात को लेकर तीखी नाराजगी जताई कि पिछले लंबे अरसे से डा. तंवर ने कार्यकर्ताओं की अनदेखी की है। चाहे वह साइकिल यात्रा की बात हो या फिर कोई अन्य कार्यक्रम, डबवाली के मुख्य कार्यकर्ताओं से उन्होंने कोई संपर्क तक नहीं किया। इसका लोगों में अच्छा संदेश नहीं गया। विनोद बांसल व अन्य कार्यकर्ताओं ने कहा कि अशोक तंवर डबवाली हलके में पिछले लंबे अर्से से दिखाई नहीं दिए। कार्यकर्ताओं की दुख-तकलीफ के समय भी वे नहीं पहुंचे। साथ ही कहा कि डबवाली हलके में डा. केवी सिंह कांग्रेस पार्टी की मजबूती के लिए दिन राज जुटे हैं इसके बावजूद पिछले विधानसभा चुनावों में उन्हें टिकट दिए जाने का अशोक तंवर ने विरोध किया, जिससे कार्यकर्ताओं में उनके प्रति गुस्सा है। कार्यकर्ताओं ने यह मांग भी उनके समक्ष उठाई कि आगामी विधानसभा चुनावों में डा. केवी सिंह को ही कांग्रेस पार्टी का टिकट दिया जाए। वहीं, कांग्रेस नेता जग्गा सिंह बराड़ ने तंवर से कहा कि कोई बाहरी उम्मीदवार डबवाली पर थोपा नहीं जाना चाहिए। यदि किसी पंजाबी को टिकट देना है तो वह खुद भी लाइन में खड़े हैं। साथ ही कहा कि यदि किसी अन्य पंजाबी उम्मीदवार को पार्टी टिकट देना चाहे तो उसका भी समर्थन करेंगे बशर्ते वह उम्मीदवार डबवाली विधानसभा क्षेत्र का रहने वाला हो। एक-एक कर कार्यकर्ता अपनी बात कहते गए और तंवर साहब सुनते गए। बीच-बीच में कुछ बातों का जवाब भी उन्होंने दिया। बाद में डॉ अशोक तंवर ने कार्यकर्ताओं से कहा कि जब से वे कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बने हैं तब से उनका दायरा भी बड़ा हो गया है। उन्हें पार्टी की नीतियों का प्रचार करने के लिए पूरे हरियाणा में जाना पड़ता है। इसलिए वे उन्हें पूरा समय नहीं दे पाए। भविष्य में वे बात का ख्याल रखेंगे कि कोई कार्यकर्ता उनसे नाराज न हो। डा. केवी सिंह को टिकट देने का विरोध करने के आरोप पर उन्होंने कहा कि टिकट देने का फैंसला वे अकेले नहीं कर सकते हैं। यह कार्य वरिष्ठ नेताओं द्वारा मिलकर किया जाता है। साथ ही कहा कि डबवाली से पार्टी द्वारा टिकट देने संबंधी जो भी फैंसला भविष्य में होगा वह कार्यकर्ताओं की भावनाओं के अनुरूप ही लिया जाएगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे सभी गिले-शिकवे शिकवे भुला कर कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए कार्य करें और आगामी लोकसभा चुनावों में पार्टी की जीत के लिए जोर-शोर से जुट जाएं। इसके बाद अशोक तंवर ने डा. केवी सिंह के साथ उनके निवास पर बंद कमरे में कई देर तक बात की। जब वह बाहर आए तो संतोष के भाव थे। जाते-जाते डा. केवी सिंह से कहा कि चुनावों में कांग्रेस पार्टी के पक्ष में प्रचार करने में जुट जाएं।
.
दूरियां नहीं गलतफहमी हो गई थी: अशोक तंवर
डा. केवी सिंह के साथ संबंधों में खटास अथवा दूूरियों की चर्चाओं पर डा. अशोक तंवर ने कहा कि डा. केवी सिंह के साथ उनकी कोई दूरियां नहीं हैं, बल्कि इसे गलतफहमी अथवा कन्फयूजन कहा जा सकता है। हम सबका मकसद एक ही है कि कांग्रेस पार्टी की मजबूत के लिए कार्य किया जाए। उन्होंने डा. केवी सिंह के साथ मिलकर पहले भी डबवाली में विकास के अनेक कार्य करवाए हैं और आगे भी आगे करते रहेंगे। कार्यकर्ताओं की नाराजगी पर उन्होंने कहा कि जैसे विवाह-शादी का मामला होता है वैसे ही चुनाव का भी मामला होता है। राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए सब एक हैं। वर्तमान में कांग्रेस पार्टी के पक्ष में एक तरफा माहौल है और चुनावों में कांग्रेस जीतने जा रही है और अगला राज कांग्रेस का ही बनेगा।
.
दूरियां नहीं कम्युनिकेशन गैप था: डा. केवी सिंह

डा. केवी सिंह ने कहा कि डा. अशोक तंवर के साथ दूरियां नहीं बल्कि मतभेद अथवा कम्युनिकेशंस गैप कहा जा सकता है। कांग्रेस बड़ा परिवार है इसलिए कई बार गलतफहमियां हो जाती हैं। उन्होंने कहा कि डा. अशोक तंवर उनसे समर्थन मांगने आए हैं। कुछ कार्यकर्ताओं के गिले शिकवे थे इसलिए उन्होंने अपनी बात रखी है। उन्होंने कहा कि 20 अप्रैल को अशोक तंवर ने नामांकन दाखिल करना है। इसे देखते हुए वह भी जल्द ही उनके पक्ष में चुनाव प्रचार शुरू करेंगे। उन्होंने कहा कि पहले भी सिरसा लोकसभा सीट पर डा. अशोक तंवर को डबवाली हलके में सबसे अधिक वोट मिले थे। इस बार भी कांग्रेस उम्मीदवार ही जीत दर्ज करेगा। भाजपा सरकार में हरियाणा में जा हालात बने हुए हैं वह सबके सामने हैं। मुख्य विपक्षी दल इनेलो दो टुकड़े हो चुका है। इसलिए कांग्रेस पार्टी दस की दस लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करेगी।



रवि मोंगा, डबवाली। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज