BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

गुरुवार, अगस्त 08, 2019

किसानों ने राष्ट्रीय किसान संगठन के बैनर तले पंजाब नेशनल बैंक डबवाली के बाहर दिया धरना

डबवाली न्यूज़
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के साल 2017 व 2018 के बकाया बीमा क्लेम को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने वीरवार को राष्ट्रीय किसान संगठन के बैनर तले पंजाब नेशनल बैंक डबवाली के बाहर धरना दिया।
किसानों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए रोष प्रदर्शन भी किया।
इस अवसर पर राष्ट्रीय किसान संगठन के अध्यक्ष जसवीर भाटी ने कहा कि अनेक किसानों का फसल बीमा योजना का 2017 व 2018 का बीमा क्लेम अभी बाकी है। इसे लेने के लिए किसानो को परेशान होना पड़ रहा है। बैंकों द्वारा यह जानकारी तक नहीं दी जा रही कि कितने किसानों को बीमा क्लेम दिया जाना है, कितने किसानों के खातों में क्लेम राशि डाल दी है और कितने किसानों का क्लेम अभी बकाया है। इस बारे जानकारी लेने किसान जब बैंक में जाते हैं तो वह कृषि विभाग के पास भेज देते है। कृषि विभाग के अधिकारी बीमा कंपनी के पास जाने की बात कह देते हैं। उन्होंने कहा कि किसानों की आर्थिक स्थिति पहले ही खराब है और बीमा क्लेम ने मिलने से किसान ओर दुखी हो रहे हैं। इसलिए किसानों को धरना प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है । किसानों की कहीं भी सुनवाई नहीं हो रही बार-बार सरकार से अपील कर रहे हैं कि सरकार जैसे बैंकों से प्रीमियम कटवा कर बीमा कंपनी को देती है वैसे ही बीमा क्लेम पास होने के 30 दिन के अंदर अंदर किसान के खाते में अपने आप क्लेम राशि आनी चाहिए। उन्होंने बैंक, बीमा कंपनी व सरकार में मिलीभगत के आरोप लगाए एवं कहा कि किसानों को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। उन्होंने मांग की कि सरकार किसानों का हक दिलवाए। जो कंपनी 6 महीने में किसान के बीमा क्लेम नहीं देती उसे सरकार ब्लैक लिस्ट किया जाना चाहिए। बाद में पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर ने भी बैंक के बाहर धरनारत किसानों से बात की। किसानों ने उनसे मांग की कि जिन किसानों का बीमा क्लेम बकाया हैं, उसकी लिस्ट उन्हें उपलब्ध करवाई जाए। इस मौके पर वेद पाल डांगी, रामप्रताप दारेवाला, रूप राम दारेवाला, सोहन सिंह, ठाकुर सिंह मांगेआना, रिछपाल सिंह नीलेयांवाली, देवेंद्र भोभिया, चुन्नी लाल नेहरा, हरदीप अलीकां, बलबीर सिंह चठ्ठा, जगसीर सिंह जंडवाला, वकील सिंह हैबुआना, सुखदर्शन सिंह, साहब सिंह सक्ताखेड़ा, कुलदीप सिंह देसूजोधा, रणजीत सिंह, हरप्रीत सिंह मांगआना, मिठ्ठु कंबोज, राकेश नेहरा, सुरेश पूनिया, बलबीर नंबरदार सहित काफी संख्या में गांवों से आए अन्य किसान मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज