Young Flame Young Flame Author
Title: बीईओ से बोले कार्रवाई करो, वरना करेंगे आंदोलन
Author: Young Flame
Rating 5 of 5 Des:
एसएमसी ने अपनाया कड़ा रुख  #dabwalinews.com डबवाली। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में मिड-डे मील के चावल खराब निकलने का मामला तूल पक...
एसएमसी ने अपनाया कड़ा रुख 
#dabwalinews.com
डबवाली। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में मिड-डे मील के चावल खराब निकलने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। वीरवार को स्कूल मनेजमेंट कमेटी (एसएमसी) सदस्यों ने बीईओ से मुलाकात करके आंदोलन करने की चेतावनी दी है। सुबह करीब 10 बजे एसएमसी सदस्यों की एक बैठक प्रधान सुखबीर सिंह की अध्यक्षता में हुई। सदस्यों ने सहमति के बाद मिड-डे मील राशन की जांच करवाने की मांग की। सदस्य बीईओ संत कुमार बिश्नोई से मिले। उन्हें मांग पत्र सौंपकर कहा कि अगर मामले की निष्पक्ष जांच न हुई तो वे आंदोलन करने को बाध्य होंगे। एसएमसी ने बीईओ को मिड-डे मील रूम की चाबी सौंपने का प्रयास किया। बीईओ ने चाबी लेने से इनकार करते हुए उनके सामने जांच कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि चावल के सैंपल लेकर उन्हें जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। रिपोर्ट के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। दूसरी ओर एफसीआई उपरोक्त चावल को उठाकर नया चावल देने के लिए तैयार है। एसएमसी इसका विरोध कर रही है। सदस्यों का कहना है कि खंड डबवाली के सभी 134 स्कूलों में हैफेड ने राशन जारी किया है। ऐसे में मामले की बारीकी से जांच होनी चाहिए। चूंकि एफसीआई का क्वालिटी इंस्पेक्टर सबके सामने यह बात कबूल चुका है कि नमी के कारण चावल डिसकलर हुए हैं। सदस्यों के अनुसार एफसीआई की तथाकथित चावल आपूर्ति की जांच होनी चाहिए।
एसएमसी की देखरेख में पकेगा मिड-डे मील
एसएमसी कमेटी की बैठक में यह भी फैसला हुआ कि अब राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में मिड-डे मील कमेटी सदस्यों की देखरेख में पकेगा। क्रमवार कमेटी का प्रत्येक सदस्य ड्यूटी करेगा। इस मौके पर तरसेम सिंह, तरसेम कुमार तथा धर्मवीर रंगीला मौजूद थे।
एसडीएम आज देखेंगे मामला, खुद करेंगे जांच
संबंधित शिकायत को मिड-डे मील प्रबंधक कमेटी खंड अध्यक्ष एसडीएम डबवाली के साथ-साथ कॉपी डीईओ को भेजी जाएगी। ताकि एसएमसी की शिकायत पर कार्रवाई अमल में लाई जा सकें।
-संत कुमार बिश्नोई, बीईओ, डबवाली
मैं शुक्रवार को डबवाली आऊंगा। चावल को चेक किया जाएगा। मिड-डे मील बच्चों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है। अगर चावल की क्वालिटी घटिया पाई गई तो संबंधित लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
-सुरेश कस्वां, एसडीएम, डबवाली
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top