Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: गैंगस्टर लॉरेंस को भी चाहते थे मारना
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#Dabwalinews.com गांव चौटाला में इनेलो नेता पीके गोदारा के किन्नू प्लांट पर अमित उर्फ घन्ना सहारण तथा सतबीर पूनियां की हत्या करने वाले शा...
#Dabwalinews.com
गांव चौटाला में इनेलो नेता पीके गोदारा के किन्नू प्लांट पर अमित उर्फ घन्ना सहारण तथा सतबीर पूनियां की हत्या करने वाले शार्प शूटरों ने फरीदकोट जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का मर्डर करना था। हमला डबवाली अदालत में लॉरेंस की पेशी के दौरान होना था।1 लेकिन पंजाब पुलिस उसे लेकर डबवाली नहीं आई। यह खुलासा डबल मर्डर मामले में पकड़े गए साजिशकर्ता चौटाला निवासी महेंद्र उर्फ गंगाजल, कालू उर्फ मुखराम तथा कुख्यात छोटू भाट के नजदीकी रिश्तेदार सुख¨वद्र उर्फ मिंडा ने किया है।1बृहस्पतिवार को सदर थाना पुलिस ने तीनों ियों को डयूटी मजिस्ट्रेट न्यायिक दंडाधिकारी (प्रथम श्रेणी) जितेंद्र सिंह की अदालत में पेश किया। अदालत ने तीनों का पांच दिन का पुलिस रिमांड जारी किया। पुलिस के अनुसार ियों ने प्रारंभिक पूछताछ के दौरान खुलासा किया है कि छोटू भाट 2 सितंबर 2016 को डबवाली अदालत में हुए हमले का बदला लेना चाहता है। ऐसे में उसने जेल में बंद हत्योरोपी करीवाला निवासी सुखदीप के साथ मिलकर गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई को मारने का प्लान तैयार किया। छोटू भाट मामले में लॉरेंस बिश्नोई को डबवाली अदालत में पेश किया जाना था। इसी दौरान अदालत परिसर में उसकी हत्या की प्लानिंग थी। पांचों शूटर चौटाला में छोटू भाट की नई बनी कोठी में ठहराए गए थे। लॉरेंस को मारने की योजना बीच में ही रह जाने के कारण शूटरों ने अमित सहारण को मार डाला। ियों का कहना है कि अमित जेल में लॉरेंस से मिलने गया था। उसे वित्तीय सहायता भी देता था। उसके साथियों को चौटाला में पनाह दी थी। इसी चक्कर में अमित को मारा गया। ऐसे में संदेह जताया जा रहा है कि लॉरेंस बिश्नोई की हत्या करने आए शार्प शूटरों ने अदालत में उस पर हमला करने की पूरी प्लानिंग तैयार की होगी। संभव है कि जब लॉरेंस की पेशी थी, तब शूटर अदालत में ही हथियार लिए घूम रहे होंगे। हालांकि शूटरों के बारे में पक्की जानकारी जुटाने का पुलिस प्रयास कर रही है।
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें

 
Top