Dabwalinews.com Dabwalinews.com Author
Title: शिक्षक पर छात्रा से दुष्कर्म का आरोप,महिला थाने में केस दर्ज,ग्रामीणों ने की छितर परेड Teacher arrested for rape with school girl
Author: Dabwalinews.com
Rating 5 of 5 Des:
#Dabwalinews.com गांव लोहगढ़ के स्कूल के टीचर के एक छात्रा से गलत संबंध होने का मामला सामने आया है। शनिवार को छात्रा के परिजनो...


#Dabwalinews.com



गांव लोहगढ़ के स्कूल के टीचर के एक छात्रा से गलत संबंध होने का मामला सामने आया है। शनिवार को छात्रा के परिजनों ग्रामीणों ने स्कूल में पहुंचकर प्रिंसिपल ऑफिस में पंचायत में हुए विवाद के बीच आरोपी टीचर के साथ स्टाफ से मारपीट की। विवाद बढ़ने पर बच्चों ने ऑफिस में आकर स्टाफ को बचाया जबकि प्रिंसिपल मौके से खिसक गए। बाद में पुलिस ने आरोपी टीचर काे हिरासत में ले लिया जबकि पीड़ित छात्रा की शिकायत पर सिरसा महिला थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
गांव के बाहर बने स्कूल में शनिवार सुबह स्कूल खुलने पर छात्रा के परिजनों ने स्कूल में पहुंचकर प्रिंसिपल अमीर सिंह के कार्यालय में स्टाफ से पंचायत की। जिसके बीच आकर परिजनों ने टीचर पर छात्रा से जबरदस्ती के आरोप लगाए। जिसे टीचर द्वारा नकारे जाने पर ग्रामीण भड़क गए और लोगों ने टीचर से आॅफिस में मारपीट कर दी। विवाद के बीच प्रिंसिपल अमीर सिंह ऑफिस से खिसक गए जबकि दूसरे स्टाफ सदस्यों ने बीच बचाव किया तो लोग उन्हें भी गलौज करते हुए मारपीट करने लगे। इससे हंगामा बढ़ गया और स्कूल का पूरा स्टाफ सहम गया जबकि छात्र छात्राओं ने ऑफिस में पहुंचकर अध्यापकों को पिटाई से बचाया। बच्चों ने कहा कि जो अध्यापक दोषी है उस पर कानूनी कार्रवाई की जाए लेकिन बाकी अध्यापकों पर स्कूल में हमला ठीक नहीं है। इस पर अभिभावक कुछ शांत हुए और मौके पर पहुंची पुलिस ने अध्यापक को घायलावस्था में गिरफ्तार कर लिया। परिजनों ने बताया कि बीती 23 जनवरी को स्कूल की एक छात्रा इसी स्कूल भवन में स्थित प्राथमिक स्कूल के टीचर स्कूल प्रिंसिपल से अवकाश लेकर बहाने से स्कूल से चले गए थे। आरोप है कि टीचर छात्रा को भी बहलाकर साथ ले गया और उससे दुष्कर्म किया। इसकी गांव में चर्चा होने पर अगले दिन आरोपी टीचर छात्रा स्कूल में नहीं आने पर शक बढ़ गया। इसके बाद छात्रा के पिता दूसरे प्रदेश पर काम पर होने से वापस लौटे और शुक्रवार को प्रिंसिपल को सूचना दी जबकि शनिवार को विवाद हो गया।
महिला थाना पुलिस के सुपुर्द कार्रवाई
चौटाला चौकी प्रभारी बलबीर सिंह ने बताया कि आरोपी टीचर काे हिरासत में लेकर मामला सहित महिला थाना में भेज दिया गया है। महिला थाना प्रभारी सीमा सोढी ने बताया कि पीड़ित छात्रा के बयान दर्ज करते हुए आरोपित पर दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया है और आगामी जांच की जा रही है। हालांकि उन्होंने कहा कि आरोपित अध्यापक की गिरफ्तारी महिला पुलिस ने नहीं की है।
स्कूल में बना दहशत का माहौल
शनिवारको सुबह करीब सवा 9 बजे सभी स्टाफ सदस्य पहुंच गए और प्रिंसिपल अमीर सिंह टीचर से उन पर लगे आरोपों पर जवाब तलब करने लगे। मौके पर ऑफिस में कार्यकारी प्रिंसिपल पंजाबी लेक्चरर निर्मल सिंह, हिस्ट्री लेक्चरर देवेंद्र सिंह, एसएस टीचर बलौर सिंह सहित अन्य स्टाफ सदस्य थे। इसी दौरान गांव में सरपंच के बेटे सहित कई ग्रामीण ऑफिस में आए जबकि छात्रा के परिजन अन्य ग्रामीणों की भीड़ भी ऑफिस में आकर प्रिंसिपल के सामने आरोपित टीचर से छात्रा के साथ की गईजबरदस्ती के आरोप लगाए। इसके चलते तनाव के बीच लोगों ने आरोपी टीचर को पीट दिया और विवाद बढ़ गया। इस दौरान स्कूल के बाहर भी काफी ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। बाद में पुलिस ने स्थिति को संभाला। लेकिन पूरे स्कूल में खौफ का माहौल हो गया। मामले को लेकर गांव की पंचायत सदस्यों, छात्रा के परिजनों ग्रामीणों ने उचित कार्रवाई की मांग की। साथ ही गांव में छात्राओं से हो रहे छेड़छाड़ अन्य मामलों पर रोक लगाए जाने को लेकर सख्ती से कदम उठाए जाने की मांग पुलिस, प्रशासन शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों से की है।
बच्चियों को स्कूल छोड़ने लेने आते हैं परिजन
परिजनोंने बताया कि गांव स्कूल के माहौल से रोजाना अपनी लड़कियों को स्कूल छोड़ने लेने आना पड़ता है। छुट्टी के समय छेड़छाड़ का डर रहता है जबकि अब बेटियों को स्कूल में स्टाफ ही शारीरिक शोषण करने लगा है। इसे सहन नहीं किया जा सकता। पीड़िता के पिता गांव से बाहर दूसरे राज्य में काम करते हैं इससे वह दादा दादी के पास रहती है। बीती 23 को गायब होने पर दादा ने स्कूल में पहुंचकर पता किया लेकिन प्रिंसिपल ने गंभीरता से नहीं लिया। शाम को छात्रा घर पहुंची तो उसके पास 500 रुपये मिलने पर टीचर की करतूत सामने आई।
टीचर काे लगाया था सीनियर कक्षा को पढ़ाने 
अध्यापक को प्रिंसिपल ने सीनियर कक्षा को पढ़ाने लगाया था। चार माह पहले 20 सितंबर को ही वह लखुआना से ट्रांस्फर होकर यहां ज्वाइन किया था। उल्लेखनीय है कि राजकीय सी से स्कूल में 11वीं 12वीं में कुल 63 विद्यार्थी हैं। इनमें 4 के पास साइंस जबकि 8 के पास कॉमर्स स्ट्रीम है लेकिन स्कूल में केवल पंजाबी हिस्ट्री के ही लेक्चरर हैं। ऐसे में सीनियर कक्षाओं को अन्य सब्जेक्ट पढ़ाने के लिए लेक्चरर को दोहरे पीरियड देने के साथ साथ अध्यापकों जेबीटी को भी पीरियड दिए गए हैं। प्रिंसिपल अमीर सिंह ने कहा कि उक्त टीचर हरकत से पूरे स्कूल को शर्मिंदा होना पड़ा है। मामले बारे बीईओ को अवगत कराते हुए पुलिस को सूचना दी है। 
अारोपी शिक्षक मेरी हिरासत में नहीं : एसएचओ 
आरोपित अध्यापक पर पीड़ित छात्रा के बयान के आधार पर केस दर्ज कर लिया है। अभियुक्त को अभी हमने गिरफ्त में नहीं लिया है। चौटाला पुलिस ने उसे हिरासत में लिया है ऐसा मेेरे संज्ञान मे नहीं है। सीमासोढी, महिला थाना प्रभारी, सिरसा
प्रतिक्रियाएँ:

About Author

Advertisement

एक टिप्पणी भेजें