?? Dabwali ????? ?? ???? ????, ?? ?? ?? ??? ???? ??????? ???? ?? ??? ?? ??????? ?? ?????????? ?? ?? ??????, ?? ????? ?? ???? ???????? ???? ???? dblnews07@gmail.com ?? ???? ??????? ???? ?????? ????? ????? ?? ????? ?????????? ?? ???? ???? ??? ?? ???? ?????? ????? ???? ????? ??? ?? 9416682080 ?? ???-??, ????-?? ?? ?????? ?? ???? ??? 9354500786 ??

Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

मिलेनियम स्कूल में ''मदर्स डे" का आयोजन बड़े ही खूबसूरत तरीके से किया गया

Dabwalinews.com
मिलेनियम स्कूल जो कि मलोट रोड पर स्थित है ।आज स्कूल के प्रांगण में बड़े ही हर्षोल्लास मनाया गया 'मदर्स डे'। अध्यापकगण और बच्चों ने कार्यक्रम में शिरकत की ।विद्यालय के नन्हे -मुन्ने बच्चों के साथ विद्यालय की अध्यक्ष डॉ दीप्ति शर्मा ने ज्योति प्रज्वलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की और मां की महिमा ,उनका महत्व बताया साथ ही साथ बच्चों को अच्छे रास्ते पर चलने का आह्वान किया । उन्होंने बताया प्रत्येक वर्ष मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे का जश्न मनाया जाता है ।संयुक्त राष्ट्र यूएन में 1914 में इसकी शुरुआत हुई थी ।1908 में अन्ना जारविस नामक एक महिला ने मुहिम छेड़ी थी और मांग की थी कि माताओं के त्याग और बलिदान के सम्मान में मदर्स डे मनाया जाना चाहिये ।वैसे तो मां का दर्जा भगवान से भी ऊंचा है और मां के आदर सम्मान के लिए वर्ष का एक दिन नहीं पूरा जीवन कम पड़ता है ।ज़िन्दगी में जो रिश्ता सबसे खास होता है वो है मां का रिश्ता मां हमेशा हर पल अपने बच्चों के साथ खड़ी होती है ,चाहे कितना भी बुरा वक़्त हो मां का आशीर्वाद हमेशा अपने बच्चों के साथ बना रहता है और वे हमेशा चट्टान की तरह खड़ी रहती है। शायद यही आशीर्वाद हमें बुरे समय से निकलने की हिम्मत देता है ।मां के आंचल की छाया में बड़े से बड़ा दर्द छूमंतर हो जाता है ।मां का दिल ही ऐसा है और बच्चों का दर्द भला वो कैसा देख पाएगी ।वे तबीयत खराब होने पर रात भर जागकर देखभाल करना बुरे वक्त में खुद भूखा रह कर बच्चे का पेट भरना कभी खुद के बारे में नहीं सोचना ही खुशहाली ना, अपनी ख्वाहिश उसका तो सब कुछ बस बच्चों का ही है ।वैसे तो मां के साथ हर दिन खास ही होता है। लेकिन नए ज़माने की नई पीढ़ी ने एक दिन खास तौर से मां के नाम किया है ।जिसे मदर्स डे के नाम से जाना जाता है मई महीने के दूसरे रविवार को भारत समेत दुनिया के कई देशों में मातृत्व का सम्मान के लिए मदर्स डे सेलिब्रेट किया गया।
"हजारों फूल चाहिए, एक माला बनाने के लिए हजारों दीपक चाहिये, एक आरती से जाने के लिए ,हजारों बूंद चाहिये समुन्दर बनाने के लिए, एक मां अकेली ही काफी है ,बच्चों की जिंदगी को स्वर्ग बनाने के लिए"
हैप्पी मदर्स डे इन पंक्तियों के साथ ही कार्यक्रम की शुरुआत की गई


माँ के महत्व को समझाते हुए मदर्स डे का सेलिब्रेशन मिलेनियम विद्यालय में बच्चों ने अपने -अपने तरीके से दिखाया । इसमें विद्यालय के अध्यापकों ने बच्चों को प्रेरित किया और बच्चों से तरह -तरह के कार्यक्रम करवाए गए । आर्ट क्राफ्ट की अध्यापिका मिस रजनी सोनी ने बच्चों से श्रंखला बनाकर मां की अद्भुत आकृति बनाकर साथ ही साथ बच्चों ने मांओ की पूजा कर उन्हें नमन भी किया । वहीं नर्सरी से पाँचवीं तक के बच्चों ने कार्ड मेकिंग प्रतियोगिता में बढ़ -चढ़कर हिस्सा लिया।जिसके सहयोग में गणित की अध्यापिका मिस निशा अग्रवाल अपनी अहम भूमिका निभाई ,बच्चों से मदर्स डे पर ग्रीटिंग कार्ड बनवाए, जहां पर बच्चों ने अपनी मां के प्रति बहुत ही खुशी और उनका सम्मान प्रदर्शित किया, भाषण प्रतियोगिता का निर्देशन हिन्दी अध्यापिका मिस मोनिका मोंगा ने किया ।इसके साथ- साथ कक्षा चौथी ने फ़ोटोफ़्रेम बनाए कक्षा सातवीं ने कोलाज मेकिंग किए और वहीं क्लास आठवीं ने पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता में अपना सहयोग दिया। मंच संचालन में आई टी अध्यापिका मिस रमन कौर सिद्धू अपना सहयोग दिया। जहां गीत गायन, कविता प्रतियोगिताऔर छोटे छोटे नन्हे -मुन्नों ने तो डांस भी किया । इस कार्यक्रम की भूमिका अलग -अलग अध्यापकों ने बच्चों को प्रेरित करते हुए अपने तरीके से निभाई। बच्चों की हौसला अफजाई वह आगे इस तरह से प्रेरणा लेते रहने के लिए अलग -अलग बच्चों को अलग अलग तरह से प्रशंसा पत्र दिए गए और ट्रॉफियां भी प्रदान की गई ।कार्ड मेकिंग प्रतियोगिता जिसमें कक्षा दूसरी से प्रथम स्थान करने वाले विद्यार्थी रमनीक, दूसरा कायरा, तीसरा स्थान गुरलीन और गुरनूर
कक्षा तीसरी में से प्रथम निमृत सिद्धू मनप्रीतकौर सिद्धू, दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले जबजी, राजिन्दर सिंह ,तीसरा स्थान पार्थ सिंह ने प्राप्त किया ।
कक्षा चौथी से प्रथम स्थान गुरलीन दूसरा स्थान गुरजस लेखर,तीसरा स्थानअभिजोत सिंह ने प्राप्त किया ।
पांचवीं कक्षा में से प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले हरगुनकौर ,दूसरा स्थान पर प्रैटीकौर और तीसरे स्थान पर गुरसीरत कौर रही ।
वहीं कक्षा छठी के विद्यार्थियों ने फ़ोटो फ़्रेम इस तरह से तैयार किये ।उसमें मां की ममता झलक रही थी ।कक्षा छठी से जसमीत कौर प्रथम,दूसरे स्थान पर नवनीत, तीसरे स्थान पर विपन्न जोत रहे ।
कोलाज मेकिंग प्रतियोगिता में कक्षा सात में से प्रथम स्थान करने वाले विद्यार्थी मनवीर कौर ,दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले ,अमानत और गुरमीत सिंह तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले मन्नत और गुनताज रहे,वहीं कक्षा आठ ने इतने सुन्दर पोस्टर बनाए देखने लायक बनते थे जिसमें प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले आशमनदीप और रणधीर सिंह ,दूसरे स्थान पर काशवी और पूषमदीप ,तीसरे स्थान पर जसलीन कौर सहारण और रितिका रहे ।कक्षा नौ में से प्रथम महकप्रीत दूसरे स्थान पर अश्मीत सिमरनजीत कौर वहीं तीसरे स्थान पर हरजोत सिंह प्रभजोत कौर ।इन सभी प्रतियोगियों ने अपना इस तरह का सहयोग प्रदान किया ।जिससे मिलेनियम विद्यालय को बहुत गर्व महसूस हुआ ।
अंत में कार्यक्रम की समाप्ति पर अध्यक्ष महोदया ने कुछ विचार प्रस्तुत किए "नींद अपनी भुलाकर हम को सुलाया, आंसू गिराकर हमको हंसाया ,दर्द कभी न देना एक खुदा मेरी मां को ,जिसे खुदा खुद तूने बनाया।"
आपका जीवन प्रेम उमंग ऊर्जा और सकारात्मक सोच से परिपूर्ण हो इस उम्मीद के साथ आपको बारम्बार अंतः दिल से मदर्स डे की हार्दिक शुभकामनायें ।

No comments: