BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर ��अगर आप हमारी पत्रकारिता को पसंद करते हैं और हमें आर्थिक सहयोग करना चाहते हैं तो 9416682080 पर फोन-पे, गुगल-पे या पेटीएम कर सकते हैं 9354500786 पर

मोबाइल पर समाचार सुने के लिए कृपया निचे दिया काले रंग के स्पीकर को दबाएं

मंगलवार, मार्च 23, 2021

बैंक खाते हैक कर बिजली बिल भरने वालों की धरपकड़ के लिए सिरसा पहुंची दिल्ली पुलिस

13 उपभोक्ताओं, 8 ऑनलाइन बिल भरने वालों को दिया थमाया नोटिस, 25 मार्च को दिल्ली किया तलब
Dabwalinews.com
उपभोक्ताओं के बैंक खाते हैक करके बिजली के बिल अदा करने वालों की धरपकड़ के लिए दिल्ली पुलिस आज सिरसा पहुंची। टीम का नेतृत्व ख्याला थाना के सहायक उपनिरीक्षक सुनील कुमार कर रहे थे। दिल्ली पुलिस शहर थाना सिरसा पहुंची और यहां पर मामले से जुड़े लोगों को तलब किया गया। उन्होंने मामले में 21 लोगों को 25 मार्च को ख्याला थाना में हाजिर होने का नोटिस थमाया। जिनमें 13 वे उपभोक्ता है, जिनका बिल अदा किया गया है, जबकि सिरसा के 7 ऑनलाइन बिल अदा करने वाले तथा एक फतेहाबाद का शामिल है। एएसआई सुनील कुमार ने बताया कि दिल्ली निवासी यूसुफ खान ने 19 नवंबर 2020 को पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी कि अज्ञात व्यक्ति ने उसके खाते से 4 लाख रुपये की निकासी की है। उसका बैंक खाता हैक करके किन्हीं लोगों के बिजली के बिल अदा किए गए है। पुलिस ने विद्युत निगम से उन उपभोक्ताओं की जानकारी मांगी गई थी, जिनके बिल अदा किए गए। निगम ने केवाईसी से हासिल की गई जानकारी दिल्ली पुलिस से सांझी की, जिसमें सिरसा के विभिन्न एरिया में रहने वाले लोग सामने आए। पुलिस ने इन लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि उन्होंने बिजली का बिल अदायगी की एवज में बकायदा चार्ज दिया है। उपभोक्ताओं से जब बिल अदा करने का तरीका पूछा गया तो उन्होंने बाजार में ऑनलाइन बिल अदा करने वालों के बारे में बताया। पुलिस ने पड़ताल की तो चेन ही बन गई। कई लोगों ने उपभोक्ता से बिल और बिल भरने का चार्ज लिया और उसे आगे किसी को कम चार्ज में दे दिया। फिर आगे भी ऐसा ही किया गया। इस प्रकार पड़ताल में सिरसा के सात और फतेहाबाद का एक व्यक्ति सामने आया है। पुलिस की ओर से सभी को नोटिस देकर तलब किया गया है। उधर, शहर थाना में जुटे उपभोक्ताओं ने हैरत प्रकट की और स्वयं को मामले में बेकसूर बताया। उन्होंने कहा कि उन्होंने तो समय पर बिल अदायगी के लिए ऑनलाइन बिल अदा करने वालों को बकायदा चार्ज देकर बिल भरा। उन लोगों ने कैसे ये खेल खेला, ये तो वही जानते है।

क्या था मामला
बिजली बिल का ऑनलाइन भुगतान की सुविधा का लाभ उठाकर हैकरों ने उपभोक्ताओं के बिल भर दिए। उपभोक्ताओं से तो पैसे वसूले और बिल दूसरे के खाते से भरा गया। इस प्रकार अधिकाधिक बिल भरकर मोटी राशि डकारी गई। हैकरों द्वारा बीबीपीएस (भारत बिल पेमेंट सर्विस) के प्लेटफार्म का इस्तेमाल किया गया है। बीबीपीएस विभिन्न प्रकार के बिल, फीस व अन्य भुगतान करने का वैध प्लेटफार्म है। हैकरों द्वारा जिन उपभोक्ताओं के बिजली के बिल अदा किए गए, वे इंडस्ट्रियल एरिया, सिटी एरिया, आपरेशन सर्कल डबवाली, सब-अर्बन सिरसा के उपभोक्ता है। हैकरों द्वारा 10 नवंबर 2020, 19 नवंबर, 11 दिसंबर 2020, 20 दिसंबर, 24 दिसंबर, 29 दिसंबर को अनेक बिजली बिलों की अदायगी की। डिजिटल प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर किए गए इस फ्राड के मामले में मुम्बई पुलिस, गुजरात पुलिस, कर्नाटक पुलिस, पेटीएम साइबर सैल, आंध्रा प्रदेश पुलिस, चंडीगढ़ साइबर पुलिस व दिल्ली पुलिस की ओर से जांच की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

AD

पेज