?? Dabwali ????? ?? ???? ????, ?? ?? ?? ??? ???? ??????? ???? ?? ??? ?? ??????? ?? ?????????? ?? ?? ??????, ?? ????? ?? ???? ???????? ???? ???? dblnews07@gmail.com ?? ???? ??????? ???? ?????? ????? ????? ?? ????? ?????????? ?? ???? ???? ??? ?? ???? ?????? ????? ???? ????? ??? ?? 9416682080 ?? ???-??, ????-?? ?? ?????? ?? ???? ??? 9354500786 ??

Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

करनाल सचिवालय के सामने चौटाला के ग्रामीणों ने शुरु आंदोलन

धरना स्थल पर किसानो और जवानों की ताकत बढ़ते ही तुरंत करेंगे मुख्यमंत्री आवास की और कुच

Dabwali News
डबवाली - चौटाला गांव के उप स्वास्थ्य केंद्र में नवजात शिशुओ की मौत प्रकरण की निष्पक्ष जांच करने, प्रसूति रोग विशेषज्ञ बाल रोग विशेषज्ञ लगाने, 11 एमबीबीएस के रिक्त पदों को भरने, लैब टेक्नीशियन रेडियोग्राफर लगाने, ऑपरेशन थिएटर एवं मोर्चरी को 23 वर्षों के बाद शुरू करने सहित सभी अव्यवस्थाओं को ठीक करने की मांग को लेकर चौटाला गांव का किसान और जवान लगातार 35 दिन से आंदोलनरत है। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे किसान नेता राकेश फगोडिया, पूनम गोदारा ने संयुक्त रूप से कहा कि मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने के बाद मुख्यमंत्री जी के ओएसडी संजय बटला से अच्छे माहौल में वार्ता हुई थी। उन्होंने भरोसा भी दिया था कि आपकी यह मूलभूत सुविधाएं हैं। इन्हें लेकर सरकार गंभीर भी है। संजय बटला जी ने कहा कि 3 जनवरी शाम तक मुख्यमंत्री जी से संवाद करने का समय निर्धारित कर देंगे लेकिन आज 4 जनवरी दोपहर तक उनकी ओर से कोई संतोषजनक जवाब नहीं आया है। संघर्षरत नेताओं ने कहा कि आज करनाल सचिवालय के सामने धरना शुरू किया है। एक तरफ संजय बटला जी का कहना है कि मुख्यमंत्री जी के संज्ञान में ला दिया गया है और जल्द संवाद करवाएंगे दूसरी तरफ संवाद करवाने का समय तक निश्चित नहीं कर रहे हैं। आज दोपहर को सचिवालय के सामने हमने धरना लगाया है और जैसे ही यहां किसानों जवानों की ताकत बढ़ेगी तुरंत मुख्यमंत्री आवास की ओर कुच करेगें। उन्होंने कहा कि खुले आसमान के नीचे बच्चे बुजुर्गों सहित धरने पर बैठे हैं लेकिन कोई सुध नहीं ली जा रही है। भयकर ठंड में राकेश फगोडिंया सहित अन्य कई साथियों की तबीयत भी नाशाज हो चुकी है। उन्होंने कहा कि मंत्री अनिल विज जी ने चौटाला गांव में जच्चा बच्चा के मौत की निष्पक्ष जांच के लिए 6 सदस्यीय कमेटी का गठन किया है जिसके लिए उनका आभार सरकार को चाहिए कि जनहित में स्वास्थ्य केंद्रों की अव्यवस्थाओं को तुरंत प्रभाव से ठीक करें ताकि भविष्य में किसी गरीब के बच्चे की दुखद मरी तो ना हो किसान नेताओं ने कहा कि सुनने में आया है कि सरकार ने

चौटाला अस्पताल में कॉन्ट्रैक्ट बेस पर पांच विशेषज्ञ डॉक्टरों की नियुक्ति की है। संघर्षरत नेताओं ने कहा कि नेशनल हेल्थ मिशन के तहत प्रशासन द्वारा बाल रोग विशेषज्ञ,स्त्री रोग विशेषज्ञ, फिजीशियन, जनरल सर्जन, एनएसथीसियालिस्ट सहित डॉक्टरों की नियुक्ति को मंजूरी दी है। लेकिन जब तक सभी रिक्त पदों पर स्थाई तौर पर नियुक्ति नहीं होगी तब तक संघर्ष जारी रहेगा। सरकार लंबे संघर्ष के बाद अस्थाई तौर पर डॉक्टरों की नियुक्ति करके इलाके के लोगों को गुमराह करने का प्रयास ना करें। उन्होंने कहा कि उम्मीद है चौटाला सहित इलाके के क्रांतिकारी किसानों जवानों के इतने लंबे संघर्ष के बाद सरकार जागेगी इसके साथ साथ फगोडिया ने कहा कि मुर्दे नेता अस्थाई नियुक्तियों का भी श्रेय लेने का प्रयास करेंगे। लावारिस डबवाली के लोग यह समझ ले कि प्रजातंत्र में आपकी आवाज को कोई भी सरकार दबा नहीं सकती जितना कठोर संघर्ष होगा सफलता उतनी ही जोरदार मिलेगी। आम किसान मजदूर को अपने हक हकूक के लिए अब सड़कों पर आना होगा आज सचिवालय के सामने पूनम गोदारा कार्मिक अनशन पर भी बैठी है। कार्मिक अनशन लगातार जारी रहेगा। आज धरना स्थल पर पूनम गोदारा, अवनी सिहाग, प्रेमसुख गोदारा, अजीत सिहाग, अनिल बिश्नोई, वेद प्रकाश स्वामी, जगदीश बिश्नोई, ओमप्रकाश मेघवाल सहित किसान नौजवान उपस्थित रहे हैं।

No comments: