Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

आमजन के प्रति प्रशासन उदासीन, भाजपा व कांग्रेस नेता ने एक साथ दिया प्रशासन व सरकार के खिलाफ धरना



डबवाली न्यूज़
 बुधवार को प्रशासन के उदासीन व उत्पीडऩ किए जाने से क्षुब्ध रेहड़ी चालको ने उनकी रेहडिय़ां जब्त किए जाने के खिलाफ एसडीएम कार्यालय के बाहर जमकर धरना प्रदर्शन किया और एसडीएम डबवाली व नगर परिषद के खिलाफ नारेबाजी की। भाजपा के मंडल अध्यक्ष विजयंत शर्मा, नगर पार्षद विनोद बांसल, रमेश बागड़ी, रविंद्र बबलू, बलजीत सिंह, रविंद्र बिंदु, पार्षद प्रतिनिधि राकेश वाल्मीकि, संजय खनगवाल, रवि सेठी एडवोकेट व अन्य लोग भी इनके समर्थन धरने पर आ बैठे। सुबह 10 बजे से धरना शुरु हुआ और साढ़े 11 बजे तक कोई अधिकारी बातचीत के लिए नहीं पहुंचा। धरनारत लोगों ने एसडीएम डबवाली के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। तदोपरांत तहसीलदार संजय चौधरी व सफाई निरीक्षक संदीप बुंंदेला पहुंचे। उन्होंने धरनारत लोगों से बात की। विजयंत शर्मा व विनोद बांसल व रेहड़ी चालकों ने प्रशासन द्वारा रेहड़ी जब्त करने व जुर्माने वसूलने की कार्रवाई भेदभावपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि लगभग सभी रेहड़ी चालक गलियों में घूम कर सब्जियां बेचते हैं। जब वह अपने घरों को वापिस जाते हैं तो रास्ते में नगर परिषद कर्मचारी उनकी रेहडिय़ां समान सहित जब्त कर लेते हैं। इसके बाद उनसे 500-500 रुपए जुर्माने के लगा देते हैं, वह कहां से जुर्माना भरें।
तहसीलदार संजय चौधरी ने कहा कि रेहड़ी चालक 200-200 रुपए जुर्माना भरकर अपनी रेहड़ी ले जाएं तथा भविष्य में नियमों की पालना जरुर करें। धरनारत लोगों का रोष देखते हुए तहसीलदार ने बिना जुर्माना रेहडिय़ा छोडऩे की बात स्वीकार कर ली। इसके बाद एसडीएम डॉ. विनेश कुमार से भाजपा नेता व नगर पार्षदों ने बात की। करीब 12.30 बजे पार्षदों ने बाहर आकर धरना समाप्त करने का ऐलान कर दिया।

बार ऐसोसिएशन सिरसा के पूर्व अध्यक्ष एडवोकेट जीपीएस किंगरा ने रेहड़ी चालकों के साथ हो रहे दुव्र्यवहार को लेकर एसडीएम डबवाली डॉ. विनेश कुमार से बात की। उन्होंने कहा कि प्रशासन लॉकडाउन के नियमों का पालन करवाए, लेकिन उन गरीब रेहड़ी चालकों पर जुर्माना लगाकर परेशान न किया जाए। इस पर एसडीएम डबवाली डॉ. विनेश कुमार ने बताया कि वह समस्या का समाधान करने में लगे हुए हैं और जल्द ही उन्हें जगह भी दे दी जाएगी। इसके बाद एडवोकेट जीपीएस किंगरा ने अपने फेस बुक पेज पर एक मैसेज और अपना मोबाईल नंबर 94160-78707 शेयर करते हुए लिखा है कि लॉकडाउन के दौरान यदि किसी भी व्यक्ति के साथ प्रशासन या पुलिस अधिकारी की ओर से कोई ज्यादती की जा रही है तो वह पीडि़त व्यक्ति की सहायता करने को तैयार हैं। इस संवाददाता से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति कभी भी उनसे संपर्क करके सहायता मांग सकता है।

No comments: