BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

रविवार, जून 28, 2020

गांव जोगीवाला में मिला कोरोना पॉजिटिव, प्रभावित क्षेत्र को बनाया कंटेनमेंट जोन


डबवाली न्यूज़ डेस्क
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने बताया कि खंड नाथूसरी चोपटा के गांव जोगीवाला में कोरोना पॉजिटीव केस मिलने पर जिला प्रशासन द्वारा प्रभावित क्षेत्र को कंटेनमेंट व बफर जोन बनाया गया हैं। उन्होंने बताया कि एसडीएम सिरसा कंटनमेंट व बफर जोन के ऑल ऑवर इंचार्ज रहेंगे, जो कोविड-19 के फैलाव को रोकने आदि के सभी प्रबंधों व व्यवस्थाओं की देखरेख करेंगे।
गांव जोगीवाला के राजकीय सीनियर सैकेंडरी स्कूल में कंट्रोल रुम स्थापित (सरपंच 80595-86275, ग्राम सचिव 85710-67002):
उपायुक्त बिढ़ान ने बताया कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के मद्देनजर गांव जोगीवाला में कैलाश के घर के साथ लगती ढाणी, भादरा रोड़ पर बंटी व ज्वाला सिंह के घर तक के क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन व इसके आसपास के क्षेत्र / वार्ड नम्बर 4 को बफर जोन घोषित किया गया है। कंटेनमेंट जोन और बफर जोन में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अध्यापक दिनकर (94161-53844) व डीपीई पृथ्वी सिंह (94168-48315) को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के रूप में नियुक्त किया गया है। कंटेनमेंट व बफर जोन के लिए राजकीय सीनियर सैकेंडरी स्कूल (सरपंच 80595-86275, ग्राम सचिव 85710-67002) में कंट्रोल रुम स्थापित किया गया है। कंट्रोल रूम के इंचार्ज अध्यापक भूप सिंह (90503-76698) होंगे। इसके अलावा चिकित्सा अधिकारी डा. दीपक व डब्ल्यूसीडीपीओ नाथूसरी चोपटा भी सहयोग करेंगी।
कंटेनमेंट जोन व बफर जोन के लिए हिदायतें जारी :
उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने बताया कि कोरोना वायरस के आस-पास के क्षेत्रों में इसके फैलाव को रोकने के लिए संदिग्धों की स्क्रीनिंग, संदिग्ध मामलों का परीक्षण, क्वारंनटाइन, सोशल डिस्टेंस आदि कार्यों के लिए कार्य योजना तैयार कर अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि आशा वर्कर व एएनएम की टीमें तैयार की गई हैं, जोकि कंटेनमेंट जोन में आने वाले हर घर को सैनेटाइज करने के साथ-साथ प्रत्येक व्यक्ति की डोर टू डोर स्क्रीनिंग / थर्मल स्कैनिंग करेंगी। इस कार्य की निगरानी के लिए लेडी हैल्थ विजिटर की ड्यूटी रहेगी। ये टीमें सिविल सर्जन के दिशा-निर्देशों अनुसार कार्य करेंगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ड्यूटी पर तैनात सभी कर्मचारियों को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों और स्क्रीनिंग / थर्मल स्कैनिंग आदि सभी आवश्यक उपकरण प्रदान किए जाएं।
उन्होंने बीडपीओ नाथूसरी चौपटा को निर्देश दिए हैं कि वे कंटेनमेंट जोन और बफर जोन के पूरे क्षेत्रों को पूरी तरह से सैनेटाइज करवाना सुनिश्चित करें। कर्मचारियों को व्यक्तिगत रूप से व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण अर्थात चेहरे के मुखौटे, दस्ताने, टोपी, सैनिटाइजर, जूते उपलब्ध करवाने के साथ सोशल डिस्टेंस की अनुपालन करवाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन के निवासियों के आने-जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। इसके लिए पुलिस विभाग द्वारा पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती करते हुए पर्याप्त सं या में नाकों आदि की स्थापना करेगा।
उन्होंने बताया कि कंटेनमेंट जोन को पूरी तरह सील कर दिया गया है तथा पुलिस बल द्वारा नाके लगा कर आमजन के आने वाले पर पूर्णत: पाबंदी लगाई गई है। इसके अलावा आपातकालीन सेवाओं को छोड़ कर उक्त क्षेत्र में दी गई सभी प्रकार की छूट को तुरंत प्रभाव से निरस्त कर दिया गया है तथा आवागमन पर भी रोक लगाई गई है। उन्होंने सिविल सर्जन को निर्देश दिए कि कंट्रोल रूम में कोरोना वायरस के बचाव के सभी आवश्यक व्यक्तिगत उपकरण व दवाइर्यों व ए बुलेंस सुविधा की उपलब्धता सुनिश्चित हो।
उन्होंने बताया कि कंटनमेंट जोन में खाद्य पदार्थों राशन, दूध, ग्रोसरी, दवाइयां व सब्जियों की आपूर्ति एएफएसओ सिरसा द्वारा तैयार की जाएगी। इसके अलावा यह भी सुनिश्चित करें कि कंटेनमेंट जोन में लोगों को घर द्वार पर ही सब्जियों, राशन/किरयाणा की वस्तुओं, दूध आदि पहुंचे। उन्होंने निर्देश कि डिलिवरी के समय ध्यान रखा जाए कि डिलिवरी ब्वाय पूरी तरह से सुरक्षा उपकरण पहनें हो और वह किसी भी घर के अंदर नहीं जाएगा और न ही किसी भी व्यक्ति के संपर्क में आएगा।
उन्होंने कंटेनमेंट जोन में पशुओं के लिए हरे / सूखे चारे व पशुओं के लिए दवाइयों की व्यवस्था के लिए उप निदेशक पशुपालन विभाग, बिजली की आपूर्ति सुचारू के लिए बिजली विभाग तथा स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति एसई पब्लिक हेल्थ द्वारा नियमित रूप से सुनिश्चित करने तथा सिविल सर्जन को कंटेनेमेंट जोन में एंबुलेंस व पेरा मैडिकल स्टाफ की तैनाती करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि साथ ही कंटेनमेंट जोन निवासियों का शत प्रतिशत आरोग्य सेतू एप पर अपलोड करवाया जाएगा। उन्होंने ड्यूटी पर तैनात सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए कि वे अपनी ड्यूटी का निर्वहन कुशलतापूर्वक व जि मेवारी के साथ करें। यदि कोई अधिकारी या कर्मचारी कोताही बरतता पाया जाता है, उसके खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Post Top Ad

पेज