BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मोबाइल पर समाचार सुने के लिए कृपया निचे दिया काले रंग के स्पीकर को दबाएं

सोमवार, जून 22, 2020

डबवाली की वारदात: मृतक के परिजन लापता बेटे को ढूंढते रहे लेकिन बहू व प्रेमी निकले कातिल



डबवाली न्यूज़ डेस्क
डबवाली.शहर के वार्ड नंबर 20 में प्रेम प्रसंग के चलते महिला ने प्रेमी और उसके दोस्त के साथ मिलकर अपने पति को नींद की गोलियां देकर नहर में फेंकवा दिया। मृतक के परिजन लापता बेटे को ढूंढते रहे लेकिन बहू के व्हाट्सएप चैट से एक माह बाद मामले का खुलासा हुआ है। जिसके बाद आरोपी महिला व उसके प्रेमी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

परिजनों ने बताया कि मृतक संदीप कुमार पुत्र देसराज वार्ड नंबर 20 का रहने वाला था और शराब के ठेके पर मलोट, पंजाब में कार्यरत था। पिछले एक माह से लापता है जिसके चलते पहले उन्होंने अपने स्तर पर जांच पड़ताल की परंतु उसका कोई सुराग नहीं मिला। ऐसे में परिजन लापता बेटे को ढूंढ रहे थे और उन्हें बहू ममता की हरकतों पर भी शक होने लगा और उनके पास रहने वाले बहू के भाई को भी बहन ममता रानी को काफी देर तक फोन चलाने से शक सच साबित हो गया।

जिसमें उन्हें व्हाट्सएप चैट पर पड़ोस में किराए के मकान में रह रहे इंजन मैकेनिक के साथ प्रेम प्रसंग का पता चला और बहू के परिजनों ने इसकी सूचना मृतक के परिजनों को दी। जिसके बाद महिला के प्रेमी को घर बुलाया तो परिजनों ने उसकी छीत्तर परेड कर दी और पूरे मामले का खुलासा हो गया। जिसके बाद उसको पुलिस के हवाले कर दिया और पुलिस ने हत्या आरोपी पत्नी ममता रानी व उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

अरुण की होशियारी से बची 12 साल की भांजी 
कहते हैं कि प्रेम अंधा होता है कुछ इसी तरह की कहानी डबवाली के वार्ड नंबर 20 में देखने को मिली जहां प्यार में अंधी पत्नी ने अपने हंसते खेलते परिवार को उजाड़ दिया और दो बच्चों की मां ममता ने अपने प्रेमी संग मिलकर पहले अपने पति को ठिकाने लगाया और अपनी 12 साल की बेटी को भी वह ठिकाने  लगाना चाहती थी यह कहना है कातिल बहन के भाई अरुण का की  कैसे उसने व्हाट्सएप चैट को देखते ही इसका अंदाजा लगा लिया कि उसकी बहन अब उसकी भांजी के लिए खतरा बन चुकी है और उस पर देर न करते हुए अरुण उर्फ़  मंगू ने इसकी सूचना अपने परिजनों व पुलिस को दी ताकि एक और अनहोनी को होनी होने से रोका जाए 

पुलिस को पूछताछ महिला ने प्रेम प्रसंग में हत्या को स्वीकार किया है और बताया कि उसका पति के साथ झगड़ा हो गया। यह बात अपने प्रेमी को बताई तो पति को रास्ते से हटाने का प्लान तैयार किया। प्रेमी ने उसे नींद की गोलियां लाकर दी जो उसने पति को दे दी। जिसके बाद महिला के प्रेमी व उसके एक दोस्त ने थार जीप में ले जाकर संदीप कुमार को नहर में फेंकने की बात स्वीकार की है। शहर थाना प्रभारी सत्यापन शर्मा ने बताया कि मामले में प्रेम प्रसंग में पति की हत्या के आरोप में महिला को गिरफ्तारी उपरांत कोर्ट में पेश कर एक दिन का रिमांड लिया गया है।











credit- bhaskar.com


कोई टिप्पणी नहीं:

AD

पेज