?? Dabwali ????? ?? ???? ????, ?? ?? ?? ??? ???? ??????? ???? ?? ??? ?? ??????? ?? ?????????? ?? ?? ??????, ?? ????? ?? ???? ???????? ???? ???? dblnews07@gmail.com ?? ???? ??????? ???? ?????? ????? ????? ?? ????? ?????????? ?? ???? ???? ??? ?? ???? ?????? ????? ???? ????? ??? ?? 9416682080 ?? ???-??, ????-?? ?? ?????? ?? ???? ??? 9354500786 ??

Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सैकेंडरी स्कूल में एक दिवसीय विचार गोष्ठी आयोजित

Dabwalinews.com
डबवाली।हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ मंडी डबवाली संबंधित सर्वकर्मचारी संघ एंड एसटीएफ आई द्वारा राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सैकेंडरी स्कूल में ब्लॉक प्रधान नानक चंद की अध्यक्षता में एक दिवसीय विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।विचार गोष्ठी में जिला प्रैस सचिव कृष्ण कायत ने वर्तमान समाज में महिलाओं की स्थिति व कामकाजी महिलाओं की सामाजिक संगठनों में भागीदारी पर विचार रखते हुए कहा कि शिक्षित महिलाओं को समाज में आगे आकर सभी महिलाओं की शिक्षा व स्थिति को सुधारने के लिए कार्य करने चाहिएं और सार्वजनिक क्षेत्रों को बचाने के संघर्षों में बढ़ चढ़कर भाग लेना चाहिए, क्योंकि प्राइवेट या कार्पोरेट व्यवस्था में महिलाओं को वो सुविधाएं नहीं मिलती जो कि सरकारी क्षेत्र की नौकरियों में उपलब्ध हैं। मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर बोलते हुए राज्य महासचिव प्रभु सिंह ने नयी शिक्षा नीति के जनशिक्षा विरोधी पहलुओं पर चर्चा करते हुए बताया कि इस नीति द्वारा समाज के वंचित तबके को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से वंचित करने की साजिशें रची जा रही हैं। फाउंडेशनल स्टेज की पांच वर्षीय शिक्षा के नाम पर पहली दूसरी कक्षा को आंगनबाड़ी व अन्य स्वयंसेवी सहायता समूहों को सौंपने की तैयारी है और दूसरी तरफ आंगनबाड़ी केंद्र एनजीओ को संभालने की कवायदें की जा रही हैं। व्यवसायिक शिक्षा के नाम पर गरीब तबकों को उनके पुश्तैनी धंधों तक सीमित रखने की साजिशें हैं, क्योंकि इसके लिए तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति का कोई प्रावधान न करके समुदाय से सहयोग लेने की बात ही की गई है। इसी प्रकार त्रिभाषी फार्मूले के तहत तीसरी कक्षा से संस्कृत भाषा लागू करके क्षेत्रीय भाषाओं को अनदेखा करने की कवायद है। 9 से 12 कक्षा के पुराने ढांचे में फेरबदल कर शिक्षा के निजीकरण व व्यापारीकरण को बढ़ावा दिया जा रहा है। इनके अलावा राज्य वरिष्ठ उपप्रधान चिरंजी लाल, जिला प्रधान गुरमीत सिंह ने भी संबोधित किया। अंत में ब्लॉक प्रधान नानक चंद ने सभी उपस्थित अध्यापक अध्यापिकाओं का धन्यवाद किया। ब्लॉक सचिव अनिल कुमार पीटीआई ने बखूबी मंच संचालन किया व पंजाबी अध्यापक जसदीप सिंह ने एक क्रांतिकारी गीत सुनाकर सभा में जोश भर दिया। इस मौके गुरविंद्र सिंह, दिनेश कुमार, भूप सिंह जेबीटी, बलौर सिंह, कालूराम, साहिल, राजेंद्र जाखड़, प्रदीप पारिक सहित डबवाली ब्लॉक के विभिन्न स्कूूलों के लगभग 70 अध्यापक-अध्यापिकाओं ने भाग लिया।
Source Link - One day seminar organized at Government Model Culture Senior Secondary School

No comments: