?? Dabwali ????? ?? ???? ????, ?? ?? ?? ??? ???? ??????? ???? ?? ??? ?? ??????? ?? ?????????? ?? ?? ??????, ?? ????? ?? ???? ???????? ???? ???? dblnews07@gmail.com ?? ???? ??????? ???? ?????? ????? ????? ?? ????? ?????????? ?? ???? ???? ??? ?? ???? ?????? ????? ???? ????? ??? ?? 9416682080 ?? ???-??, ????-?? ?? ?????? ?? ???? ??? 9354500786 ??

Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

डबवाली से पानीपत तक इस फोर लेन सड़क बनने से डबवाली कॉटन काउंटी को होगा यह फायदा

Dabwalinews.com
डबवाली से पानीपत तक बनने जा रही इस फोरलेन सड़क का प्रस्ताव को मूर्त रूप देने के लिए राज्य सरकार का लोक निर्माण विभाग भी कमर कस चुका है।
अभी हाल ही में विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ इसका रोडमैप तैयार करने पर विमर्श भी हुआ है। कस्बों से गुजरने वाली इस फोरलेन सड़क के निर्माण से पहले आवश्यक सर्वे सहित अन्य तमाम औपचारिकताएं शीघ्र ही पूरी की जाएंगी। करीब 300 किलोमीटर प्रस्तावित फोरलेन के लिए बड़ा मुद्दा जमीन अधिग्रहण के दृष्टिगत अधिकारी अब अनुमानित लागत के लिए ड्राफ्ट जिले के अनुसार तैयार कर रहे हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने डबवाली से उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाले एक्सप्रेस-वे के निर्माण की घोषणा इसी साल की है। इस प्रोजेक्ट से मेरठ तक फोरलेन एक्सप्रेस-वे से सीधी कनेक्टिविटी होगी। इससे हरियाणा और पंजाब के कई शहरों को सीधा लाभ पहुंचेगा। रोड मैप की बात करें तो डबवाली गांव से शुरू होने वाला एक्सप्रेस-वे कालांवली, रोड़ी, सरदूलगढ़, रतिया, भूना, सनियाना, प्रभुवाला, उचाना, नगूरा, असंध, सफीदों से पानीपत जाएगा। बीच में कुछ हिस्सा सरदूलगढ़ पंजाब का है, शेष हिस्सा हरियाणा का है। इसको लेकर सर्वे भी हो चुका है। करीब 300 किमी में एक्सप्रेस वे बनेगा।

कॉटन काउंटी को होगा फायदा

डबवाली से पानीपत एक्सप्रेस-वे बनने से इलाके को सीधा फायदा होगा। चूंकि पानीपत हेंडलूम का गढ़ है, तो डबवाली कॉटन काउंटी है। कपास उत्पादकों को सीधा फायदा होगा। पानीपत के हैंडलूम कारोबारियों को कपास की जरूरत होती है। पहले लंबा रास्ता होने के कारण कारोबारी डबवाली का रुख नहीं करते थे। लेकिन एक्सप्रेस-वे से रास्ता कम होगा तो सुगम राह मिलने से व्यापारियों का रुझान डबवाली की ओर बढ़ेगा। भविष्य में कपास उत्पादकों को कपास का अच्छा मूल्य मिलने से फायदा होगा।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का ड्रीम प्रोजेक्ट
माना जाता है कि उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला का यह ड्रीम प्रोजेक्ट है। वह इसे क्षेत्र के विकास की रीढ़ मानकर चल रहे हैं। खासकर, कस्बाई क्षेत्रों को रोड कनेक्टिविटी देकर वह बेहतर परिवहन के जरिये विकास को गति देना चाहते हैं। इसी उद्देश्य को साधने के क्रम में डबवाली से लेकर पानीपत तक का फोरलेन रोड बनाना चाहते हैं। यह फोरलेन प्रदेश के उन वंचित कस्बों को बेहतरीन रोड मुहैय्या करवाएगा, जिन क्षेत्रों के लोग लंबे समय से इसकी मांग कर रहे हैं। करीब 300 किलोमीटर लंबे प्रस्तावित प्रोजेक्ट की रूप रेखा पिछले दिनों हुई विभाग के अधिकारियों की बैठक में खींची गई। यह सड़क 14 से अधिक कस्बों को जोड़ेगी। अब सरकार क्षेत्र के लोगों की मांग के अनुसार से फोरलेन बनाती है तो इसका पूरा लाभ मिलेगा।

इन क्षेत्रों से होकर प्रस्तावित है फोरलेन

लोक निर्माण विभाग के अनुसार डबवाली से शुरू होकर पानीपत तक बनने वाला फोरलेन उचाना होकर गुजरेगा। जो डबवाली, कालावाली, रोडी, सरदुलगढ़, हांसपुर, रतिया, भूना, सनियाणा, उकलाना, लीतानी, उचाना, नगुरां, असंध, सफीदो से पानीपत तक बनाई जाना प्रस्तावित है। फतेहाबाद में प्रस्तावित फोरलेन हांसपुर पंजाब बार्डर से शुरू होकर रतिया उसके बाद भूना व सनियाणा तक बनेगी। जो करीब 70 बनेगी।
 14 कस्बों को जोड़ने वाला एक्सप्रेस-वे की लंबाई करीबन 300 किमी होगी। हालांकि यहां पर पहले से ही मार्ग बना हुआ है लेकिन उसकी चौड़ाई कम है। एक्सप्रेस-वे बनने से यह फोरलेन होगा। पहले बनी सड़कें टूटी फूटी हैं जबकि प्रस्तावित एक्सप्रेस-वे से सफर सुगम बनेगा। एक्सप्रेस-वे बनने से सिरसा, फतेहाबाद के अलावा पंजाब के बठिंडा, मानसा, मलोट तथा राजस्थान के हनुमानगढ़ क्षेत्र से उत्तर प्रदेश की ओर जाने वाले को एक्सप्रेस-वे से सीधा लाभ मिलेगा।

Dabwali Cotton County will benefit from the construction of this four-lane road from Dabwali to Panipat.

Dabwalinews.com
The Public Works Department of the state government has also geared up to give a concrete shape to the proposal of this four-lane road going to be built from Dabwali to Panipat. Recently, discussions have also taken place with the higher officials of the department to prepare its roadmap. Before the construction of this four-lane road passing through the towns, all the other formalities including the necessary survey will be completed soon. In view of the big issue of land acquisition for about 300 km of the proposed four lane, the officials are now preparing the draft district wise for the estimated cost. Chief Minister Manohar Lal has announced the construction of an expressway connecting Dabwali to Uttar Pradesh this year. This project will have direct connectivity to the four-lane expressway up to Meerut. This will directly benefit many cities of Haryana and Punjab. Talking about the road map, the expressway starting from Dabwali village will go from Kalanwali, Rodi, Sardulgarh, Ratia, Bhuna, Sanyana, Prabhuwala, Uchana, Nagura, Assandh, Safidon to Panipat. Some part in the middle is of Sardulgarh Punjab, the remaining part is of Haryana. A survey has also been done in this regard. Expressway will be built in about 300 km.

Cotton County will benefit

The area will be directly benefited by the construction of Panipat Expressway from Dabwali. Since Panipat is a handloom stronghold, Dabwali is a cotton county. Cotton growers will be directly benefited. The handloom traders of Panipat need cotton. Earlier, traders did not turn to Dabwali due to the long road. But if the road will be less than the expressway, then due to the easy way, the trend of traders will move towards Dabwali. In future, cotton growers will benefit from getting good price for cotton.
Deputy Chief Minister Dushyant Chautala's dream project
It is believed that this is the dream project of Deputy Chief Minister Dushyant Chautala. He is treating it as the backbone of the development of the region. In particular, by giving road connectivity to the urban areas, he wants to accelerate development through better transport. In order to fulfill this objective, we want to build a four-lane road from Dabwali to Panipat. This four-lane will provide excellent roads to the deprived towns of the state, whose people have been demanding it for a long time. The outline of the proposed project, about 300 km long, was drawn in the meeting of the officials of the department held recently. This road will connect more than 14 towns. Now if the government makes four lanes according to the demand of the people of the area, then it will get full benefit.

Four lane is proposed through these areas

According to the Public Works Department, the four lane to be built from Dabwali to Panipat will pass through Uchana. Which is proposed to be built from Dabwali, Kalawali, Rodi, Sardulgarh, Hanspur, Ratia, Bhuna, Sanyana, Uklana, Litani, Uchana, Naguran, Assandh, Safido to Panipat. The proposed four lane in Fatehabad will start from Hanspur Punjab border to Ratia and then to Bhuna and Sanyana. Which will be around 70.
The length of the expressway connecting 14 towns will be around 300 km. Although there is already a road here but its width is less. By becoming an expressway, it will be four-lane. The roads built earlier are broken while the proposed expressway will make travel easier. Apart from Sirsa, Fatehabad, people going towards Uttar Pradesh from Punjab's Bathinda, Mansa, Malout and Hanumangarh areas of Rajasthan will get direct benefit from the expressway.




No comments: