?? Dabwali ????? ?? ???? ????, ?? ?? ?? ??? ???? ??????? ???? ?? ??? ?? ??????? ?? ?????????? ?? ?? ??????, ?? ????? ?? ???? ???????? ???? ???? dblnews07@gmail.com ?? ???? ??????? ???? ?????? ????? ????? ?? ????? ?????????? ?? ???? ???? ??? ?? ???? ?????? ????? ???? ????? ??? ?? 9416682080 ?? ???-??, ????-?? ?? ?????? ?? ???? ??? 9354500786 ??

Trending

3/recent/ticker-posts

Labels

Categories

Tags

Most Popular

Secondary Menu
recent
Breaking news

Featured

Haryana

Dabwali

Dabwali

health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

अग्रवाल युवा संगठन ने हवनयज्ञ वाहन के साथ की परिक्रमा हवनयज्ञ वातावरण शुद्धि के लिए जरूरी:तहसीलदार

Dabwalinews.com 
डबवाली। ऋग्वेद के अनुसार हवन करवाना बेहद फायदेमंद माना जाता है, इससे पवित्रता बरकरार रहती है, हवन करने से वातावरण प्रदूषण मुक्त होता है , सेहत के लिए लाभदायक माना जाता है।विज्ञान की मानें तो, हवन के दौरान मंत्रों का जाप करने से ध्वनि तरंगित होती हैं या अनेक प्रकार के ध्वनि का संचार होता है जिनका स्वभाव सकारात्मक होता है। यह ध्वनि मानवीय शरीर में ऊर्जा का संचार करती हैं। इसीलिए, हवन करना बेहद लाभदायक माना जाता है। अब जब पूरे देश में कोरोना संक्रमण ने अपना जाल फैला दिया है और मानव जीवन संकट में आ गया है, ऐसे में तो हवनयज्ञ का महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है। देश,प्रदेश व शहर की सुख स्मृद्धि और खुशहाली के लिए अग्रवाल युवा संगठन (रजि.) डबवाली द्वारा हवनयज्ञ परिक्रमा का आयोजन किया गया। टै्रक्टर-ट्राली पर हवन सामग्री की आहूति डालकर पूरे विधि विधान और मंत्रोच्चारण के साथ पूरे शहर में परिक्रमा की गई। इस हवनयज्ञ में तहसीलदार भवनेश्वर कुमार व पटवारी जोगिंद्र ने आहूति डालकर इस वाहन को अग्रवाल धर्मशाला से रवाना किया। अग्रवाल युवा संगठन के प्रधान असीम बांसल,सचिव राजीव बांसल (रिंकू रिगल), कार्यक्रम संयोजक राजेंद्र बांसल (बिट्टू) व कोषाध्यक्ष कर्नल गर्ग (कन्नू) के नेतृत्व में हवनयज्ञ के आहूतिनुमा वाहन की शहर में परिक्रमा करवाई गई। इस अवसर पर तहसीलदार भवनेश्वर कुमार ने अग्रवाल युवा संगठन के सदस्यों की प्रश्ंांसा करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन की वर्तमान में बेहद आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि हवनयज्ञ का सनातन धर्म में जहां विशेष स्थान है तो वहीं विज्ञान भी हवनयज्ञ की उपयोगिता को स्वीकार करता है। उन्होंने कहा कि ऋषि मुनी जब जंगलों मेंं तप करते थे तो प्राकृतिक आपदा के साथ-साथ मानवीय दुष्टों से बचने के लिए हवनयज्ञ किया करते थे। इससे वातावरण की शुद्धि तो होती ही है तो वहीं आने वाले संकट भी टल जाते हैं। इस अवसर पर रॉकी बांसल, रॉकी गोयल, विक्की गोयल, तुषार गोयल,बिट्टू गोयल, कर्ण गर्ग , रवि मित्तल ने हवनयज्ञ वाहन का नेतृत्व किया।

No comments: