health

[health][bsummary]

sports

[sports][bigposts]

entertainment

[entertainment][twocolumns]

रिद्धि-सिद्धि इलेक्ट्रिकल से 5.23 करोड़ की ठगी

Dabwalinews.com
सिरसा। सुरखाब चौक के निकट नंदन वाटिका स्थित फर्म रिद्धि सिद्धि इलेक्ट्रिकल के संचालक के साथ लगभग साढ़े 5 करोड़ की ठगी का मामला सामने आया है।पीडि़त की शिकायत पर शहर थाना सिरसा पुलिस ने गाजियाबाद स्थित फर्म के दो लोगों के खिलाफ भादंसं की धारा 406, 420 के तहत मामला दर्ज किया है।रिद्धि सिद्धि इलेक्ट्रिकल के संचालक वीरेंद्र गुप्ता की ओर से पुलिस में दर्ज करवाई गई शिकायत में बताया गया है कि वर्ष 2002 से मैसर्ज रिद्धि सिद्धि इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग एंड कंस्ट्रक्शन कंपनी का संचालन कर रहे है। उनकी फर्म नेे दक्षिणी हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम से इलेक्ट्रिकल उपकरणों की आपूर्ति, विद्युतिकरण के कार्य के तीन टेंडर हासिल किए थे। उसने बताया कि निगम के कार्य के लिए गाजियाबाद की फर्म मैसर्ज पैसोनडिया केबल प्राइवेट लिमिटेड को निगम द्वारा सामान की आपूर्ति के लिए अप्रूवड फर्म करार दिया गया था। इसलिए टेंडर कार्य के लिए उन्होंने उक्त फर्म से सामान की खरीद की और इसकी एवज में 5 करोड़ 23 लाख 97 हजार रुपये की अदायगी की।
वीरेंद्र गुप्ता ने बताया कि टेंडर कार्य पूरा होने पर निगम अधिकारियों द्वारा जांच की गई और सामान को निम्र बताया और इसे बदलने के निर्देश दिए। इस बारे में मैसर्ज पैसोनडिया केबल प्राइवेट लिमिटेड के के डायरेक्टर राघवेंद्र गोयल तथा समिता गोयल से सामान को बदलने का बार-बार आग्रह किया। लेकिन उन्होंने सामान बदलकर नहीं दिया और उनके साथ जानबूझकर धोखाधड़ी की। शहर सिरसा पुलिस ने शिकायत के आधार पर राघवेंद्र गोयल व समिता गोयल के खिलाफ मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है।

No comments: