BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मोबाइल पर समाचार सुने के लिए कृपया निचे दिया काले रंग के स्पीकर को दबाएं

शनिवार, जुलाई 11, 2020

गांव मौजगढ़ निवासी युवक की हत्या के मामले में पांच काबू ,चंद घंटों में सुलझाया हत्या का मामला


डबवाली न्यूज़ डेस्क 
सदर डबवाली थाना पुलिस ने बीती 9 जुलाई को गांव मौजगढ़ निवासी जितेन्द्र उर्फ मोनू की हत्या के मामले में महत्तवपूर्ण सुराग जुटाते हुए घटना के पांच आरोपियों को चंद ही घंटों में गिरफ्तार कर लिया है ।
इस संबंध में जानकारी देते हुए डीएसपी डबवाली कुलदीप सिंह बैनीवाल व सदर डबवाली थाना प्रभारी उप निरीक्षक राजकुमार ने संयुक्त रूप से बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान बंदगी राम पुत्र मुल्ख राज, सुखपाल उर्फ काला पुत्र गुरपाल सिंह, जगदीप उर्फ गौरू पुत्र सुखराम, बुधराम पुत्र चिमनलाल व गुरपाल उर्फ पाला पुत्र ओम प्रकाश निवासियान गांव सुखेरा खेड़ा के रूप में हुई है । उन्होंने बताया कि इस घटना के आरोपियों की शीघ्र अति शीघ्र गिरफ्तारी के लिए जिला के पुलिस अधीक्षक उप पुलिस महनिरीक्षक डॉ. अरूण सिंह ने सदर डबवाली व सीआईए डबवाली की पुलिस का गठन किया था । डीएसपी कुलदीप सिंह ने बताया कि पुलिस की टीमों ने आरोपियों के छिपने के संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दी और घटना के पांच आरोपियों को काबू कर लिया । उन्होंने बताया कि घटना के बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमें लगातार दबिश दे रही हैं और शीघ्र ही घटना के बाकी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा । डीएसपी कुलदीप सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त हथियार व वाहन बरामद किए जाएंगे । गौरतलब है कि बीती 9 जुलाई को जितेंद्र उर्फ मोनू गांव अबूबशहर में स्थित एक होटल में अपने एक अन्य दोस्त अरूण कुमार के साथ बैठा था तो उसी समय मोटरसाइकिलों व अन्य वाहनों पर सवार करीब 15/16 लोगों ने जितेंद्र उर्फ मोनू का अपहरण कर लिया था और उसे तलवार व लाठी-डंडों से पूरी तरह घायल कर उसे गांव सुखेरा खेड़ा की एक गली में फेंककर मौका से फरार हो गए, जिसकी बाद में मौत हो गई थी ।

कोई टिप्पणी नहीं:

AD

पेज