BREAKING NEWS

Post Top Ad

Your Ad Spot
�� Dabwali न्यूज़ है आपका अपना, और आप ही हैं इसके पत्रकार अपने आस पास के क्षेत्र की गतिविधियों की �� वीडियो, ✒️ न्यूज़ या अपना विज्ञापन ईमेल करें dblnews07@gmail.com पर अथवा सम्पर्क करें मोबाइल नम्बर �� 9354500786 पर

मोबाइल पर समाचार सुने के लिए कृपया निचे दिया काले रंग के स्पीकर को दबाएं

बुधवार, फ़रवरी 10, 2021

कार समेत डूबने से 4 की मौत,पति को सरप्राइज देने आ रही थी महिला



Dabwalinews.com
हनुमानग़ढ जिले के टाउन थाना क्षेत्र में लखुवाली के पास देर रात एक गाड़ी के नहर में गिर गई। हादसे में चार लोगों के मौत हो गई। मृतकों में एक पुरुष, दो महिला और एक बच्ची शामिल है। मंगलवार देर रात हुए हादसे में बुधवार दिन में करीब 1:30 तीनों के शवों को बाहर निकाला गया। इस हादसे में विनोद अरोरा, पत्नी रेनू, बेटी ईशा और एक महिला सुनीता भाटी की मौत हो गई।घटना मंगलवार रात करीब 10:30 बजे की है। कार सवार परिवार सीकर से संगरिया लौट रहा था। इस दौरान लखुवाली के पास इंदिरा गांधी मुख्य नहर के पास गाड़ी चला रहे रमेश स्वामी पेशाब करने उतरे थे। रमेश का कहना है कि वे हैंड ब्रेक लगाना भूल गए थे। इसी दौरान गाड़ी नहर में जा गिरी।जांच में सामने आया कि घटना के वक्त सुनीता भाटी ने अपने पति को फोन किया था। इस दौरान गाड़ी लुढ़क कर नहर में चली गई। करीब 15 मिनट तक सुनीता का फोन चालू रहा। उसने फोन पर पति को बताया कि हमारी गाड़ी नहर में गिर गई है। जिसके बाद चिल्लाने की आवाजें आने लगी। सभी मदद के लिए चिल्लाते रहे। विनोद अरोरा के फोन पर भी करीब 15 मिनट तक घंटियां जा रही थी। इसके बाद सब कुछ शांत हो गया। सभी के फोन बंद हो गए।
पति को सरप्राइज देने आ रही थी महिला
मृतक सुनिता भाटी का पति संदीप भी संगरिया के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय फतेहगढ़ में लेक्चरर हैं। परिवार ने बताया कि सुनिता भाटी दोनों बेटों के साथ सीकर ही रहती थी। जो विनोद अरोरा की गाड़ी में सीट खाली होने का कारण उनके साथ आ रही थी। सुनिता अपने पति संदीप को सरप्राइज देना चाहती थी।



गाड़ी में अधिकांश लोग सो रहे थे


बताया जा रहा है कि घटना के वक्त गाड़ी में सभी लोग सो रहे थे। सिर्फ सुनीता ही जागी हुई थी। अचानक गाड़ी नहर में फिसलने से वो संभल नहीं पाई। जिससे सभी की मौत हो गई।

बेटी को कोचिंग के लिए सीकर छोड़ने गए थे

मृतक विनोद अरोरा हनुमानगढ़ जिले कि संगरिया में ग्रामोथान विद्यापीठ संस्था के एसकेएम पब्लिक स्कूल में एलडीसी के पद पर थे। पत्नी रेनू भी यहां टीचर थी। बच्ची भी इसी स्कूल के 10वीं क्लास में पढ़ रही थी। परिवार बड़ी बेटी दीया को कोचिंग के लिए सीकर छोड़ने गए थे। सूनिता भाटी के दोनों बेटे पहले सीकर में पढ़ते हैं। वो उनसे मिलकर विनोद के परिवार के साथ वापस आ रही थी। चालक रामेश भी स्कूल में एलडीसी था।
Source Link - 4 deaths due to drowning car, woman was coming to surprise husband



कोई टिप्पणी नहीं:

AD

पेज